Homeधर्म19 नवंबर 2021 को लगने जा रहा है साल का आखिरी चंद्र...

19 नवंबर 2021 को लगने जा रहा है साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, यह 580 साल का सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण होगा

आज साल का आखिरी चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है, यह चंद्र ग्रहण अपने साथ कई बेहद खास संयोग लेकर आया है। ऐसा कहा जा रहा है कि यह चंद्र ग्रहण 580 सालों में लगने वाला सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। आपको बता दे यह चंद्र ग्रहण भारत में बहुत कम स्थानों से नजर आएगा। वाराणसी भारतीय हिंदू पंचांग के मुताबिक, कार्तिक शुक्ल पूर्णिमा शुक्रवार 19 नवंबर 2021 को वर्ष का आखिरी और सबसे लंबा चंद्र ग्रहण देखने को मिलेगा। यह संयोग दोपहर 12.48 बजे से शुरू होगा और शाम 4.17 बजे पर समाप्त होगा, चंद्र ग्रहण 3 घंटे 28 मिनट और 24 सेकंड तक रहेगा।

kartik purnima chandra grahan lunar eclipse 2021 sutak kaal time puja vidhi  dos and donts - Astrology in Hindi - Chandra Grahan 2021 : खण्ड ग्रस्तोदित चन्द्र  ग्रहण आज, नोट कर लें

भारत देश में चंद्र ग्रहण को राहु-केतु के चांद पर हमले के रूप में देखा जाता रहा है लेकिन बाकी के देशों में चंद्र ग्रहण की कोई खास व्याख्या नहीं थी, इस वजह से आम लोगों ने अनेक मिथक गढ़े। आज के समय में कई देशों में चंद्र ग्रहण को अशुभ माना जाता है, कई देशों में मान्यता है कि चंद्र ग्रहण के दौरान जैगुआर चांद पर हमला करके उसे खाने की कोशिश करता है। इसलिए लोग इस दिन भाले बनाते थे और इस जानवर को भगाने के लिए शोर मचाते थे।

यह भी पढ़े- भगवा वस्त्रधारी संतों को “चिलमजीवी” कहना अखिलेश यादव को पड़ा महंगा

chandra grahan 2021 lunar eclipse will happen on november 19 will be seen  in these places in india this is the time of sutak period tvi | Chandra  Grahan 2021 : 19

आज लगने वाले आंशिक चंद्र ग्रहण के दौरान चांद का 97.4 प्रतिशत हिस्सा पृथ्वी की छाया में छिप जाएगा, अगर यह चंद्र ग्रहण थोड़ा और बड़ा होता तो यह आंशिक के बजाय पूर्ण चंद्र ग्रहण भी हो सकता था। इस चंद्र ग्रहण को लेकर दुनिया भर के लोग काफी ज्यादा उत्साहित हैं और सोशल मीडिया पर इसको लेकर लगातार अपनी प्रतिक्रिया दे रहें हैं।

Chandra Grahan (Lunar Eclipse) November 2021 Date and Time, Timings in  India, Chandra Grahan Kab Lagega Samay, or Kab Ka Pad Rha Hai: Everything  You need to Know - Chandra Grahan 2021:

ज्योतिषाचार्य प्रवीण मिश्रा ने बताया कि यह चंद्र ग्रहण जहां दिखेगा इसके नियम केवल वहीं लागू होगे। चंद्र ग्रहण के दौरान तेल का इस्तेमाल ना करे, इस दौरान भोजन करने की मनाही होती है। आपको चंद्र ग्रहण के दौरान सोना नहीं होता है, इस दौरान फूल और पत्तो को तोड़ने से बचना चाहिए। इसके अलावा मंदिर में स्थापित भगवान की मूर्ति को भी नहीं छूना चाहिए।

इससे पहले इतना बड़ा चंद्र ग्रहण 18 फरवरी 1440 में लगा था। अब अगला इतना लंबा चंद्रग्रहण 8 फरवरी 2669 को लगेगा, इसके बीच में कई छोटे चंद्र ग्रहण लगते रहेंगे। भारत में यह चंद्र ग्रहण मोक्ष के समय अत्यंत सूक्ष्मता से देखने पर अरुणाचल प्रदेश, असम और पूर्वोत्तम के कुछ राज्यों में देखने को मिलेगा। यह ग्रहण भारत के अलावा थाईलैंड, ऑस्ट्रेलिया, चीन, रूस और इंडोनेशिया में दिखाई देगा।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -