Homeदेश & राज्यहेटेरो फार्मास्यूटिकल जिसके दफ्तर से जब्त किये गये 142 करोड़ रुपये, जानें...

हेटेरो फार्मास्यूटिकल जिसके दफ्तर से जब्त किये गये 142 करोड़ रुपये, जानें कंपनी की पूरी डिटेल

आयकर विभाग ने 11 अक्टूबर को  हैदराबाद स्थित एक हेटेरो फार्मास्यूटिकल ग्रुप के दफ्तर पर छापेमारी की थी। जहां से 142 करोड़ रुपये जब्त किए।

आयकर विभाग ने 11 अक्टूबर को हैदराबाद स्थित एक हेटेरो फार्मास्यूटिकल ग्रुप के दफ्तर पर छापेमारी की थी। जहां से 142 करोड़ रुपये जब्त किए। जब्त किये गये कैश को देखकर अधिकारी भी हैरान थे।अलमारियों के अंदर पैसों की मोटी-मोटी गड्डियां बनाकर रखी हुई थी। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि 6 अक्टूबर को छह राज्यों के 50 स्थानों पर तलाशी और जब्ती अभियान चलाया गया। हेटेरो फार्मास्यूटिकल ग्रुप पर छापेमारी गुप्त सूचना के आधार पर की गई थी। आखिर  हेटेरो फार्मास्यूटिकल ग्रुप कैसे काम करता है जो इतनी बड़ी संख्या में नगदी बरामद हुई और नोटों की गड्डियों से भरी अलमारी की वायरल फोटो  की सच्चाई क्या है। आज हम इन दोनों चीजों के बारे में आपको जानकारी देंगे।

रेमेडिसविर और फेवीपिरवीर को लेकर बटोरी थी सुर्खियां

हेटेरो ड्रग्स एक भारतीय दवा कंपनी है और दुनिया में एंटी-रेट्रोवायरल दवाओं का सबसे बड़ा उत्पादक है। हेटेरो के कारोबार में एपीआई, जेनरिक, बायोसिमिलर, कस्टम फार्मास्युटिकल सेवाएं और ब्रांडेड जेनेरिक शामिल हैं।कंपनी  संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोप, दुबई और अफ्रीकी देशों जैसे देशों को प्रोडक्ट निर्यात करती है। इसके अलावा कंपनी कोविड महामारी के दौरान  रेमेडिसविर (Remdesivir) और फेवीपिराविर (Favipiravir) को लेकर भी सुर्खियों में रही थी। कंपनी की भारत, चीन, रूस, मिस्र, मैक्सिको और ईरान में 25 से ज्यादा जगहों पर उत्पादन फैसिलिटी हैं। इतना ही नहीं कोविड के समय कंपनी ने कहा था कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से अस्पतालों में भर्ती युवाओं के इलाज के लिए  Tocilizumab के बायोसिमिलर वर्जन की आपातकालीन मंजूरी मिल गई है।

यह भी पढ़े: 142 करोड़ रुपये दफ्तर की अलमारी में छिपा कर बैठी थी फार्मास्यूटिकल कंपनी, IT विभाग ने छापेमारी कर सीज की नगदी

पैसों से भरी अलमारी का सच


गौरतलब है कि कंपनी के दफ्तर पर छापेमारी के दौरान 142.87 करोड़ रुपये की अस्पष्टीकृत नकदी जब्त की गई और लगभग 550 करोड़ रुपये की बेहिसाब आय का भी पता चला। इसके अलावा डिजिटल मीडिया, पेन ड्राइव, दस्तावेज आदि के रूप में आपत्तिजनक सबूत मिले थे। अब बात करते हैं पैसों से भरी अलमारी की। सोशल मीडिया पर एक पैसो से भरी अलमारी की फोटो वायरल हो रही है। जिसे लेकर दावा किया जा रहा है कि ये अलमारी हेटेरो फार्मास्यूटिकल ग्रुप के दफ्तर से छापेमारी के दौरान जब्त की गई है। हालांकि अभी तक आईटी विभाग ने अलमारी को लेकर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKTWITTER और INSTAGRAM पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -spot_img