- विज्ञापन -

Latest Posts

Jama Masjid: जामा मस्जिद में लड़कियों की एंट्री को लेकर हुआ बवाल, मस्जिद के इमाम बोले -‘इबादत की जगह दोस्तों का इंतजार हो रहा है’

Jama Masjid: दिल्ली की मशहूर जामा मस्जिद (Jama Masjid) में इस समय एक नोटिस के चलते बवाल मचा हुआ है। बताया जा रहा है प्रशासन द्वारा मस्जिद के मुख्य द्वार पर एक नोटिस लगाया गया है जिसमें लड़कियों के अकेले या समूह में प्रवेश पर रोक की बात लिखी गई है। विवाद को बढ़ता देख दिल्ली के उपराज्यपाल (एलजी) वीके सक्सेना ने जामा मस्जिद के शाही इमाम बुखारी से बात की। वहीं एलजी ने प्रतिबंध लगाने वाले आदेश को रद्द करने का अनुरोध किया। रिपोर्ट्स के अनुसार मस्जिद के इमाम ने उप-राज्यपाल को अनुरोध को स्वीकार कर लिया है और आदेश को रद्द करने पर सहमति जताई है। इससे पहले दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी इस विषय पर चिंता जाहिर करते हुए मस्जिद के इमाम को नोटिस भेजा था।

मालीवाल के नोटिस पर इमाम का जवाब

मस्जिद में लड़कियों की एंट्री को लेकर शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने कहा कि मस्जिद हो या मंदिर या गुरद्वारा तीनो ही इबादत की जगह है और इबादत की जगह पर आने में कोई पाबंदी नहीं है। आज भी कई लड़कियां आई हैं और सभी को आने की इजाजत दी गयी। इमाम बुखारी ने आगे कहा कि इबादत की जगह पर सभी लोगों का स्वागत है, लेकिन कुछ लड़कियां अकेले आ रही हैं और अपने दोस्तों का इंतजार कर रही हैं। यह जगह इस काम के लिए नहीं है, इस पर पाबंदी है। उन्होंने ये भी कहा कि यह आदेश नमाज पढ़ने आने वाली लड़कियों के लिए नहीं है।

इससे पहले दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर इमाम से इस विषय पर जवाब मांगा था उन्होंने ने लिखा था, “जामा मस्जिद में महिलाओं की एंट्री रोकने का फ़ैसला बिलकुल ग़लत है। जितना हक एक पुरुष को इबादत का है उतना ही एक महिला को भी। मैं जामा मस्जिद के इमाम को नोटिस जारी कर रही हूँ। इस तरह महिलाओं की एंट्री बैन करने का अधिकार किसी को नहीं है।”

ये भी पढ़ें: Sachin Tendulkar: फैसलाबाद की ग्रीन टॉप विकेट पर जब 16 साल के सचिन के सामने नतमस्तक हुआ था पूरा पाकिस्तान, देखें Video

मस्जिद प्रशासन का विवाद पर जवाब

जामा मस्जिद के PRO अधिकारी ने बताया कि महिलाओं की एंट्री पर रोक नहीं लगाई गई है। उन्होंने बतया कि जब लड़कियां अकेले आती हैं, तब गलत काम होते हैं, रील्स वीडियो बनाए जाते हैं। यहां परिवार या फिर शादीशुदा जोड़ों पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। पहले भी मस्जिद में संगीत वीडियो की शूटिंग पर रोक लगा दी गयी थी। मस्जिद के प्रवेश द्वार पर एक पुराने बोर्ड पर लिखा गया था कि “मस्जिद के अंदर संगीत वीडियो की शूटिंग पर सख्त पाबंदी है।” प्रशासन के सूत्रों ने दावा किया कि अनुचित व्यवहार करने वाले लोगों को रोका जा रहा है और सभी महिलाओं पर रोक नहीं लगाई जा रही।

ये भी पढ़ें: Dinesh Karthik: दिनेश कार्तिक जल्द ले सकते है अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास, इंस्टाग्राम पर साझा किया इमोशनल वीडियो

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल