Homeदेश & राज्यKerala coronavirus case: 24 घंटे में 3382 नए कोरोना केस दर्ज, 59...

Kerala coronavirus case: 24 घंटे में 3382 नए कोरोना केस दर्ज, 59 लोगों की मौत

केरल में सोमवार को 3,382 नए कोविड -19 मामले दर्ज किए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस बात की सूचना दी है। स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि कोविड से आज 59 लोगों की मौत हुई है।

केरल में सोमवार को 3,382 नए कोविड -19 मामले दर्ज किए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस बात की सूचना दी है। स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि कोविड से आज 59 लोगों की मौत हुई है। जिलेवार आंकड़े देखें तो एर्नाकुलम-666, तिरुवनंतपुरम-527, कोझीकोड-477, कोल्लम-259, त्रिशूर-237, कन्नूर-231, कोट्टायम- 198, पलक्कड़-174, इडुक्की-122, अलाप्पुझा-114, पठानमथिट्टा-111, मलप्पुरम-106, वायनाड-82 और कासरगोड-72 मामले दर्ज किए गये।

245 लोग अस्पताल में भर्ती

पिछले 24 घंटों में कुल 44,638 नमूनों का परीक्षण किया गया। स्थानीय निकायों को साप्ताहिक संक्रमण जनसंख्या अनुपात (WIPR) के आधार पर वर्गीकृत किया गया है। WIPR 19 स्थानीय स्व-सरकारी निकायों के 21 वार्डों में 10 से ऊपर है। राज्य में फिलहाल 1,56,786 लोग निगरानी में हैं। इसमें से 1,52,086 लोग होम/संस्थागत क्वारंटाइन में हैं और 4,700 लोग अस्पतालों में हैं। सोमवार को 245 लोगों को अस्पतालों में ले जाया गया।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वायरस को लेकर जताई चिंता

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सोमवार को एक चिंताजनक नए ओमीक्रॉन कोविड -19 वेरिएंट के उद्भव के बीच भविष्य की महामारियों को रोकने और लड़ने में मदद करने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय समझौते पर जोर दे रहा है। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस ने भी कहा कि इस बारे में कई अनिश्चितताएं बनी हुई हैं कि अत्यधिक उत्परिवर्तित ओमीक्रॉन द्वारा संक्रमण कितना गंभीर और गंभीर हो सकता है।एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने सोमवार को कहा कि भारत में अभी तक कोरोनावायरस के नए ओमीक्रॉन वेरिएंट का कोई मामला सामने नहीं आया है। बी.1.1.1.529 कोविड संस्करण या ओमीक्रॉन, जिसे पहली बार पिछले हफ्ते दक्षिण अफ्रीका में पाया गया था। भारतीय SARS-CoV-2 जीनोमिक कंसोर्टिया INSACOG स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहा है और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के सकारात्मक नमूनों के जीनोमिक विश्लेषण के परिणामों में तेजी ला रहा है।

यह भी पढ़े: इस जगह 90 % कोरोना मरीज omicron वैरिएंट से संक्रमित


इससे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन ने रविवार को नए कोविड -19 संस्करण ओमीक्रॉन की पहचान और संप्रेषणीयता पर चिंताओं के बीच कहा कि यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि डेल्टा सहित अन्य वेरिएंट की तुलना में चिंता का प्रकार अधिक ट्रांसमिसीबेल है या नहीं।  वैश्विक संगठन ने कहा कि वर्तमान में यह सुझाव देने के लिए कोई जानकारी नहीं है कि ओमीक्रॉन से जुड़े लक्षण अन्य प्रकारों से अलग हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -