Homeदेश & राज्यMadhya Pradesh: लंपी वायरस से रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री ने बुलाई बैठक,...

Madhya Pradesh: लंपी वायरस से रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री ने बुलाई बैठक, पशुओं को लगाया जाएगा मुफ्त टीका

Madhya Pradesh: मध्यप्रदेश में लंपी वायरस से अब तक 26 जिलों से जानकारी सामने आई है। 26 जिलों में वायरस फैल चुका है। इस बढ़ते संक्रमण को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकार से गंभीर कदम उठाने की मांग की है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज बुधवार को लंपी वायरस की रोकथाम के कार्यों की समीक्षा के लिए बैठक बुलाई। जिसमें कहा गया कि गौ सेवक, जनप्रतिनिधि और समाज के बाकी लोग सब मिलकर बीमारी को रोकना है। पड़ोसी राज्यों में जिस तरह गाय और बाकी पशुओं की मृत्यु हो रही है वह दृश्य काफी दुखद है।

पशुओं को लगाया जाएगा मुफ्त टीका

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी कीमत पर ऐसी स्थिति पैदा नहीं होने देना है। यह पशुओं में कोविड-19 की तरह ही है और कई चीजों से फैलता है। मक्खी, मच्छर, आपस में मिलने, साथ रहने से यह बीमारी संक्रामक रूप से फैलती है। अब इन बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पशुओं को वायरस से बचाने के लिए मुफ्त टीका लगाया जाएगा। पशुओं में लंपी वायरस रोग के लक्षण दिखाई देने पर पशु पालकों को निकटतम पशु औषधालय, पशु चिकित्सालय में संपर्क करने के लिए कहा गया है।

Also Read: Uttar Pradesh: मदरसों की सर्वे पर योगी का बड़ा फैसला, AIMIM नेता ने कहा जांच के नाम पर मुसलमानों को किया जा रहा परेशान

8000 मवेशी संक्रमित

सरकारी आंकड़ों के अनुसार अब तक करीब आठ हजार से ज्यादा मवेशी संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से 5432 मवेशी ठीक हो चुकी है‌। वहीं करीब 100 से अधिक मवेशियों की मौत हुई है। जानकारों ने दावा किया है कि प्रदेश में 3000 से ज्यादा पशुओं की लंपी वायरस से मौत हुई है। अधिकारियों की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक पशुपालन एवं डेयरी विभाग मध्यप्रदेश द्वारा प्रदेश में रोग की रोकथाम व नियंत्रण के लिए अलर्ट जारी किया गया है। संक्रमित क्षेत्रों तथा जिलों में पशुओं का टीकाकरण और चिकित्सा कार्य भी किया जा रहा है।

Also Read: Punjab: पंजाब की दूसरी प्राइवेट यूनिवर्सिटी में छात्रों ने फिर किया भारी विरोध प्रदर्शन, जानिए वजह

इन जिलों में मिले वायरस

लंपी वायरस के मामले रतलाम, उज्जैन, नीमच, मंदसौर, इंदौर, खंडवा और बैतूल जिले में पाए गए हैं। इसके अलावा भिंड, मुरैना, श्योपुर, अलीराजपुर, खरगोन, बड़वानी, हरदा, धार, बुरहानपुर, आगर मालवा और झाबुआ में मवेशियों में लंपी वायरस के लक्षण दिखे हैं। जानकारी के लिए बता दें यदि मवेशियों में लंबी वायरस के लक्षण दिखे तो उनको तुरंत दूसरे मवेशियों से अलग कर दें। इसके अलावा गाय का दूध उबालकर ही उपयोग करें।
देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -

Latest Post

Latest News

- Advertisement -