Jabalpur News: जबलपुर में शपथ ग्रहण पर ही कांग्रेस-बीजेपी में मनमुटाव, दोनों पार्टी के पार्षद अब अलग अलग दिन लेंगे शपथ

Date:

Jabalpur News: जबलपुर में पहली बार कांग्रेस और बीजेपी के पार्षद अलग-अलग तारीख को शपथ लेने जा रहे हैं। बात दें कि कांग्रेस के निर्वाचित महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू 7 अगस्त को शपथ लेंगे।

जबलपुर नगर निगम में सत्ता संभालने के पहले ही कांग्रेस और बीजेपी के बीच टकराव शुरू हो गया है। शपथ ग्रहण के लिए बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने आ गए हैं। जबलपुर नगर निगम के इतिहास में पहली बार कांग्रेस और बीजेपी के पार्षद अलग-अलग तारीख को शपथ लेने जा रहे हैं। वैसे,कांग्रेस के निर्वाचित महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू 7 अगस्त रविवार को अपने दिग्गज नेता कमलनाथ के मौजूदगी में शपथ लेने जा रहे है।

शपथ ग्रहण से पहले शुरू हुई राजनीति

राजनीतिक पंडितों का कहना है कि जबलपुर में नगर सरकार के लिए जो परिणाम सामने आए हैं, उनसे इतना तो साफ हो गया है कि आने वाले 5 साल में जबलपुर नगर निगम के सदन में जमकर राजनीति देखने को मिलेगी। लेकिन,ये राजनीति शपथ ग्रहण के पहले ही शुरू हो जाएगी इस बात का अंदाजा शायद किसी को नहीं था। दरअसल,18 साल बाद नगर निगम में कांग्रेस ने वापसी की है और महापौर पद पर अपना कब्जा जमा लिया है। लेकिन पार्षदों की संख्या के मामले में कांग्रेस बीजेपी से पिछड़ गई है।

अब 7 अगस्त को कांग्रेस ने एक भव्य शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया है जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को भी आमंत्रित किया गया है। कांग्रेस ने तो बीजेपी के पार्षदों को भी शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया है लेकिन बीजेपी ने इस समारोह से खुद को अलग कर लिया है। जगत बहादुर सिंह अन्नू का कहना है कि बीजेपी नगर निगम की परंपरा को ना तोड़े और राजनीति से ऊपर उठकर सभी पार्षदों को एक साथ शपथ करवाए।

ये भी पढ़ें:  Congress Protest: कांग्रेस को धरना देना पड़ा महंगा! दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR, राहुल बोले- देश में आवाज उठाना गैरकानूनी

बीजेपी 8 अगस्थ को करेगी अपना शपथ ग्रहण

इधर,बीजेपी के पार्षदों का कहना है कि संगठन ने ये निश्चित कर लिया है कि 7 अगस्त को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे। बीजेपी अलग से नगर निगम परिसर में 8 अगस्त को अपना शपथ ग्रहण समारोह आयोजित करेगी। कहा जा रहा है कि बीजेपी ने इसीलिए शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार किया है क्योंकि इसमें पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ आ रहे हैं और बीजेपी नहीं चाहती कि उनके पार्षद कमलनाथ के सामने शपथ लें। बीजेपी के निर्वाचित पार्षद कमलेश अग्रवाल का कहना है कि 8 अगस्त को शपथ लेने का फैसला पार्टी संगठन है।

ये भी पढ़ें:  CWG 2022: अपने पहले ही कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग ले रही भारतीय मुक्केबाज नीतू ने फाइनल में मारी एंट्री, सोना के लिए अब लड़ेगी

यहां आपको बता दें कि जबलपुर नगर निगम के 79 वार्ड में से 26 में कांग्रेस तो 44 में बीजेपी के पार्षद हैं। ऐसे में सदन में बीजेपी एक मजबूत विपक्ष के रूप में मौजूद रहेगी। लेकिन शपथ ग्रहण समारोह में भी विपक्ष का ये तेवर आने वाले तूफान का संकेत माना जा रहा है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related