Homeख़ास खबरेंRajasthan: तूल पकड़ रहा सत्रावसान का मामला, बीजेपी के धरने को गहलोत...

Rajasthan: तूल पकड़ रहा सत्रावसान का मामला, बीजेपी के धरने को गहलोत ने बताया नाटक

Rajasthan: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधानसभा सत्र का सत्रावसान को लेकर राज्यपाल कलराज मिश्र को जिम्मेदार ठहराया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली बार भाजपा के लोगों के दबाव में राज्यपाल ने विधानसभा सत्र नहीं बुलाया था इसलिए इस बार हमने जानबूझकर सत्रावसान नहीं किया। अब सत्रावसान दरकिनार करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सत्रावसान ना करके सीधे ही सत्र बुलाने पर भाजपा ने आपत्ति जताते हुए सदन के बाहर हंगामा किया। भाजपा विधायकों ने इस मामले को लेकर विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी के चेंबर में भी धरना दिया और कार्यवाही के दौरान वेल में आकर नारेबाजी की।

बीजेपी के धरने को बताया नाटक

मुख्यमंत्री गहलोत ने बीजेपी के धरने पर कहा कि आज यह धरना देकर नाटक कर रहे हैं। धरना देना है, तो दिल्ली में जाइए। मुख्यमंत्री ने कहा कि गोवंश में फैले लंपी रोग को राष्ट्रीय आपदा घोषित कराएं। हमने तो 15 अगस्त को ही मीटिंग बुलाकर विपक्षी नेताओं, धर्म गुरुओं से बात की है हमारी प्राथमिकता लंपी स्किन रोग से गायों को बचाना है जो भी संसाधन उपलब्ध करा सकते हैं हम उनको उपलब्ध करा रहे हैं।

Also Read: Aam Aadmi Party: ‘आप’ का आरोप-प्रत्यारोप, चुनावों के लिए कार्यक्रम करने से रोक रही भाजपा

सरकार गिराने की कोशिश

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि नई विधानसभा इसलिए नहीं बुलाई गई क्योंकि पता नहीं बीजेपी की नियत कब खराब हो जाएं, फिर सरकार गिराने की कोशिश हो जाएं। सीएम ने आज विधानसभा सत्र में बीजेपी विधायकों के हंगामे के बाद राजधानी जयपुर में मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैं बार-बार कह रहा हूं देश के अंदर सरकार गिराने का बीजेपी ने जो मॉडल बनाया, यह लोकतंत्र में अच्छा नहीं है। हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और अब अन्य राज्यों में उनकी नजरें हैं। यह अच्छी बात नहीं है।

Also Read: African Conflicts: चीन के हथियारों की बिक्री से अफ्रीकी देशों में बढ़ा संघर्ष, विस्थापित होने पर मजबूर हो रहे लोग

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -

Latest Post

Latest News

- Advertisement -