Homeदेश & राज्यकेंद्र सरकार के फैसले से जनता को मिलेगी राहत, खाद्य तेलों के...

केंद्र सरकार के फैसले से जनता को मिलेगी राहत, खाद्य तेलों के दामों में कमी लाने के लिए उठाया बड़ा कदम

मंहगाई आसमान छू रही है। आम आदमी की जेब पर भारी असर पड़ रहा है लेकिन इस बीच केंद्र सरकार ने आम जनता को राहत देने के लिए बड़ा कदम उठाया है। सरकार पेट्रोल-डीजल तो नहीं लेकिन खाने के तेलों के दामों में कमी लाने के लिए बड़ा कदम उठाया है। सरकार के इस फैसले से त्योहारों से पहले लोगों को महंगाई से थोड़ी राहत मिलने की उम्मीद।

दरअसल केंद्र सरकार ने कच्ची सोयाबीन और सूरजमुखी तेल पर लगने वाला आयात शुल्क को 6 महीने के लिए खत्म कर दिया है क्रूड पाम ऑयल पर लगने वाला एग्री सेस को 20 फीसदी घटाकर 7.5 फीसदी कर दिया गया है। जबकि क्रूड सोया और सनफ्लावर पर सेस 5 फीसदी कर दिया गया है।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड यानी के सीबीआई सी ने एक अधिसूचना में कहा है कि शुल्क में कटौती 14 अक्टूबर से प्रभावी होगी, और 31 मार्च 2022 तक लागू रहेगी। यानी अगले साल 31 मार्च तक इन पर इंपोर्ट ड्यूटी नहीं लगेगी। हालांकि रिफाइंड सोया ऑयल और सनफ्लावर ऑयल पर आयात शुल्क लगता रहेगा।

वहीं सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के कार्यकारी निदेशक बी वी मेहता ने कहा है कि घरेलू बाजार और त्योहारी मौसम में खुदरा कीमतों में बढ़ोतरी के कारण सरकार ने खाद्य तेलों पर आयात शुल्क हटा दिया है। SEAO के मुताबिक अगस्त में 12,437 टन और सितंबर में 20,215 टन क्रूड सरसों तेल विदेश से मंगाया गया। यही नहीं, घरेलू मांग पूरी करने के लिए अगले दो तीन महीनों में क्रूड सरसों तेल का आयात बढ़ सकता है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -spot_img