Homeदेश & राज्यदिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा पकड़े गए आतंकी ने किए बड़े...

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा पकड़े गए आतंकी ने किए बड़े खुलासे, ISI का नाम आया सामने

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मंगलवार को एक संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी मोहम्मद अशरफ को पकड़ लिया था, आतंकी से पूछताछ में सामने आया हैं कि 2011 में हाईकोर्ट के बाहर हुए ब्लास्ट में किस आतंकी का हाथ था।

पाकिस्तानी आतंकी मोहम्मद अशरफ को ब्लास्ट से जुड़े एक संदिग्ध की तस्वीर दिखाई गई, तो उसने बताया कि उसने ही 2011 हाई कोर्ट ब्लास्ट की रेकी करी थी। अभी तक यह बात साफ नहीं हुई हैं कि यह उस ब्लास्ट से जुड़ा हुआ था की नहीं। अब तक आतंकी से एनआईए, रॉ और एमआई ने पूछताछ करी हैं।

Pakistani terrorist arrested in Delhi remanded to 14-day police custody,  was part of ISI terror module | India News | Zee News

आतंकी ने 2011 में पुलिस के पुराने हेडक्वार्टर जो आईटीओ में था, उसकी भी रेकी करी थी। अशरफ ने बताया कि पुलिस हेडक्वार्टर की कई बार रेकी करी लेकिन कुछ पता नहीं चला, जिसके बाद आईएसबीटी की भी रेकी की। सारी मिली जानकारियों को पाकिस्तान के हैंडल्स को दे दिया था, अभी तक पूछताछ में यह बात पता नहीं चली हैं की क्या हाई कोर्ट ब्लास्ट में अशरफ का भी हाथ था, इसको लेकर लगातार पूछताछ चल रही हैं।

अब तक हुए खुलासे

  1. 2011 हाई कोर्ट ब्लास्ट की रेकी इसी आतंकी ने की थी, ब्लास्ट में दो पाकिस्तानी आतंकी शामिल थे, जिसमे एक का नाम गुलाम सरवर था।
  2. जम्मू कश्मीर में 5 जवानों के मारने के पीछे इनका हाथ था, इस बात की जांच जारी हैं।
  3. 2009 जम्मू-कश्मीर बस स्टैंड ब्लास्ट आईएसआई ऑफिसर नासिर के हुकुम पर किया था
  4. आईएसआई अफ़सर नासिर के कहने पर कई बार कश्मीर के अंदर हथियार सप्लाई किया गया था।
  5. आईएसआई अफसर से E – mail पर बात होती थी, जिसके लिए ड्राफ्ट में संदेश छोड़ा जाता था।
Pakistani terrorist arrested from Delhi's Laxmi Nagar; AK-47, hand grenade  recovered | India News | Zee News

यह भी पढ़े- आज आईपीएल 2021 के दूसरे क्वालिफायर में KKR और DC आमने-सामने,

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाह ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि अशरफ काफ़ी वक्त से फर्जी आईडी की मदद से भारत में रह रहा था और एक स्लीपर सेल की तरह कार्य कर रहा था। उसके पास से हमें AK- 47 और ग्रेनेड मिले थे।

डीसीपी प्रमोद ने आगे बताया कि अशरफ ने गाजियाबाद की एक लड़की से शादी भी की हैं, ताकि उसपर किसी का शक ना जाए। अशरफ जो 40 साल का हैं वह दिल्ली एनसीआर में पीर -मौलाना के तौर पर झाड़ फूंक भी किया करता था। आतंकी अशरफ बांग्लादेश के रास्ते भारत के लिए रवाना किया गया था, वह सिलीगुढ़ी से भारत के अंदर घुसा था।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKTWITTER और INSTAGRAM पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -spot_img