Udaipur News: उदयपुर हत्‍याकांड से राजस्‍थान के पर्यटन उद्योग को लगा तगड़ा झटका, बुकिंग रद्द करा रहे हैं लोग

Date:

Udaipur News: उदयपुर में पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों का दावा है कि दर्जी कन्हैयालाल की निर्मम हत्या के कारण पर्यटन उद्योग को झटका लगा है। घटना के कारण उदयपुर आने वाले पर्यटकों ने अगले दो महीनों के लिये होटलों में आधे से अधिक बुकिंग रद्द कर दी है।

घटना के बाद भय के कारण पर्यटकों ने एंडवास बुकिंग रद्द कराना शुरू कर दिया है। शहर में ज्यादातर लोगों के लिये पर्यटन आजीविका का मुख्य स्त्रोत है और इससे जुड़े हितधारकों को डर है कि इस घटना से बड़े पैमाने पर शहर की छवि को झटका लगा है और सितंबर से शुरू होने वाले पर्यटन सीजन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। उदयपुर होटल एसोशिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और कारोही हवेली होटल के मालिक सुदर्शन देव सिंह ने समाचार एजेंसी को बताया, इस घटना के बाद लोगों ने अग्रिम बुकिंग रद्द करना शुरू कर दिया।

पहले कोरोना की मार, अब इस घटना ने उदयपुर की छवि को बुरी तरह से प्रभावित कर दिया

जुलाई और अगस्त माह में मानसून के मौसम के दौरान सप्ताह अंत के लिये मेरे पास अच्छी संख्या में पर्यटक आने वाले थे लेकिन घटना के बाद अगले दो महीनों के लिये पचास प्रतिशत से अधिक बुकिंग पिछले पांच-छह दिनों के दौरान रद्द कर दी गई। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पर्यटन उद्योग पहले से प्रभावित था और इस साल अच्छे कारोबार की उम्मीद थी लेकिन इस घटना ने उदयपुर की छवि को बुरी तरह प्रभावित किया है।

उदयपुर ही नही राजस्थान के पर्यटन उधोग के लिए भी बड़ा झटका हैं घटना: संजय कौशिक

जयपुर में राजस्थान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स के सचिव संजय कौशक ने कहा, ‘‘उदयपुर एक बहुत ही शांतिपूर्ण शहर रहा है और ऐसा कोई घृणित अपराध आज तक नहीं हुआ। यह न केवल उदयपुर बल्कि पूरे राजस्थान जहां पर्यटन एक प्रमुख उद्योग है, के लिये एक झटका है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘उदयपुर आने वाले कई पर्यटकों ने घटना को देखते हुए अपनी अग्रिम बुकिंग को रद्द कर दिया है। उदयपुर आकर्षक स्थानों के अलावा शांतिपूर्ण वातावरण के कारण पर्यटकों का आकर्षण का केन्द्र था लेकिन इस घटना से नकारात्मक प्रभाव पड़ा है।’’

शहर की सांस्कृतिक झलक को पाने के लिए बेताब रहते हैं पर्यटक

हरे-भरे स्थानों और पहाड़ियों से घिरा उदयपुर झीलों की नगरी के नाम से एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है जो अपने शांत वातावरण, सुरम्य स्थानों और झीलों के लिये जाना जाता है। इसे देश के पर्यटन मानचित्र पर एक विशेष स्थान प्राप्त है। यह हस्तशिल्प का भी केन्द्र है। उदयपुर आने वाले अधिकांश पर्यटक जगदीश चौक, हाथी पोल क्षेत्र ओर मालदास गली का दौरा करते है। मालदास गली के पास एक दुकान में मंगलवार को एक दर्जी कन्हैयालाल की हत्या हुई थी।

अधिकांश हस्तशिल्प, वस्त्र, और आभूषणों की दुकानें इसी क्षेत्र में स्थित हैं। हाथीपोल के हस्तशिल्प व्यापारी देवेन्द्र जावलिया ने कहा, ‘‘उदयपुर की छवि बुरी तरह से खराब हुई है और मुझे अपने दोस्तों और देश के विभिन्न हिस्सों से लोगो के साथ-साथ ग्राहकों के फोन आ रहे है और वे इस घटना पर आश्चर्य जता रहे हैं। यह धारणा निश्चित रूप से हम सभी के लिये चिंता का कारण है।’’

यह भी पढ़े: Maharashtra Politics: पद संभालने के बाद शिंदे ने कहा, ‘मुझे मुख्यमंत्री बनाने के मोदी-शाह के फ़ैसले ने कइयों की आंखें खोल दीं’

शहर में भरोसा बहाल करने की आवश्यकता: एमएन सिंह पूर्व पुलिस महानिदेशक

टूरिस्ट गाइड गजेन्द्र सिंह राठौड़ ने कहा, ‘‘हम सभी इस घटना से स्तब्ध है। आमतौर पर हर शहर में अपराध होते हैं, लेकिन इस घटना ने पूरे देश के लोगों को झकझोर कर रख दिया है।’’

घटना के बाद जयपुर से उदयपुर भेजे गये अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दिनेश एमएन ने कहा कि शहर में भरोसा बहाल करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि उदयपुर अपने पर्यटन के लिये जाना जाता है और बड़ी संख्या में लोग इससे जुड़े हैं। हमें स्थिति को सामान्य करने के लिये विश्वास का माहौल बहाल करने की जरूरत है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related