Saharanpur News: सहारनपुर के पूर्व MLC हाजी इकबाल और महमूद अली की कोठियों पर चला बुलडोजर, इतनी संपत्ति की गई जब्त

Date:

Saharanpur News: सहारनपुर में पूर्व MLC हाजी इकबाल और उनके भाई पूर्व MLC महमूद अली की मुश्किलें लगातार बढ़ रही हैं। दोनों भाइयों की न्यू भगत सिंह कॉलोनी में स्थित तीन बड़ी कोठियों पर विकास प्राधिकरण ने बुलडोजर चला दिया। दूसरे दिन मंगलवार को भी कार्रवाई जारी रही।

इनमें से हाजी इकबाल की दो कोठियों के अवैध हिस्सों को गिराया गया है जबकि महमूद अली की एक कोठी पूरी तरह जमींदोज की जानी है, जिस पर पहले दिन करीब 30 फीसदी ही कार्रवाई हो सकी है। मंगलवार को सुबह से ही पुलिस प्रशासन की टीम भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गई और कार्रवाई शुरू कराई।

प्रशासन ने पूरी कोठी का निर्माण अवैध बताया है। इसका मानचित्र स्वीकृत नहीं कराया गया था। ऐसे में यह पूरी कोठी ही जमींदोज की जानी है। प्राधिकरण ने जेसीबी से मेन गेट तुड़वाने के बाद अंदर के ताले तुड़वाकर पहले कोठी से मुख्य सामान बाहर निकलवाकर उसे खाली कराया। इसके बाद कोठी के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू की।

विकास प्राधिकरण की कार्यवाहक सचिव/एसडीएम सदर किंशुक श्रीवास्तव प्राधिकरण के अधिकारियों और कर्मचारियों को लेकर जेसीबी के साथ न्यू भगत सिंह कॉलोनी पहुंचीं। किसी भी तरह की परिस्थिति से निपटने के लिए भारी पुलिस बल और कई थानों के प्रभारी बुलाए गए थे। एएसपी प्रीति यादव भी मौके पर पहुंची थीं। इसके अलावा सिटी मजिस्ट्रेट विवेक चतुर्वेदी, एडीएम वित्त एवं राजस्व रजनीश कुमार मिश्र भी मौके पर पहुंच गए। मंगलवार को भी अधिकारी मौके पर पहुंची और कार्रवाई का जायजा लिया।

यह भी पढ़े: Twitter Moves High Court: ट्विटर ने केंद्र सरकार के आदेश को कर्नाटक हाई कोर्ट में दी चुनौती, जानिए क्या है पूरा माजरा

सभी अधिकारियों के इकट्ठा होने के बाद ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई। कॉलोनी की अंतिम गली में साथ-साथ बनी हाजी इकबाल की दो कोठियों पर सबसे पहले कार्रवाई की गई। सबसे पहले 450 वर्ग गज में बनी तीन मंजिला कोठी पर कार्रवाई की गई। प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि उक्त कोठी का मानचित्र पास कराया गया था, लेकिन मानचित्र के विपरीत निर्माण किया गया। उसी को ध्वस्त किया जा रहा है।

इस कोठी के मुख्य द्वार से लेकर एक साइड की दीवारों को जगह-जगह से तोड़ा गया। यह कोठी वर्ष 1999 की बनी हुई बताई गई है। इसी से सटाकर बनी हुई कोठी को भी अवैध बताया गया, जिसका सामने लगा गेट और दीवार को ध्वस्त किया गया है।

यह भी पढ़े: Amarnath Yatra: जम्मू-कश्मीर में भारी बारिश के चलते रोकी गई अमरनाथ यात्रा, अगले 36 घंटे तक हाई अलर्ट जारी

हाजी इकबाल की कोठी पर कार्रवाई के बाद प्राधिकरण की टीम पूरे प्रशासनिक एवं पुलिस अमले के साथ इन दोनों कोठियों से पहले बनी पूर्व एमएलसी महमूद अली की कोठी पर कार्रवाई करने पहुंची। यह भी करीब 500 वर्ग गज में बनी हुई आलीशान कोठी थी।

मंगलवार सुबह पुलिस प्रशानिक अमला फिर से महमूद अली की कोठी पर कार्रवाई के लिए पहुंचा और बुलडोजर की कार्रवाई शुरू कराई। इस दौरान पॉकलेन मशीन भी कार्रवाई में शामिल रही। वहीं प्रशासन की इस कार्रवाई के दौरान मौके पर भारी भीड़ मौजूद रही।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related