- विज्ञापन -

Latest Posts

Uttarakhand: चिंतन शिविर के अंतिम दिन CM धामी का दिखा अनूठा अंदाज, IAS अफसरों संग किया योग

Uttarakhand: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी मसूरी में सशक्त उत्तराखंड@25 चिंतन शिविर में भाग लिया। जहां इस उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ योग किया। सक्षक्त उत्तराखंड@25चिंतन शिविर का आज अंतिम दिन था। अकादमी के कालिंदी ग्राउंड में योग शिविर का आयोजन किया गया। वहीं 25 चिंतन शिविर के द्वितीय सत्र के समापन पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से सभी अधिकारियों ने चर्चा भी की। इस चिंतन शिविर का लक्ष्य वर्ष 2025 तक उत्तराखंड (Uttarakhand) को श्रेष्ठ राज्य के रूप में देखने का है। जिसमे वन-विभाग, कौशल विकास और उद्योग जैसे मुद्दों पर सरकार और प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा चर्चा की गई।

चिंतन शिविर से पहले योग शिविर

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ उत्तराखंड के मुख्य सचिव एसएस संधू सहित अधिकारियों ने योग अभ्यास में भाग लिया। अकादमी के कालिंदी मैदान में योग शिविर का आयोजन किया गया और इस अवसर पर योग के विभिन्न आसन किए गए। इससे पहले सीएम अकादमी परिसर में मॉर्निंग वॉक पर भी गए। उन्होंने इस मौके पर अपनी सुरक्षा में तैनात आईटीबीपी के जवानों से बात की। उन्होंने अन्य लोगों से भी मुलाकात की और इच्छाओं का आदान-प्रदान किया। आपको बता दें राज्य (Uttarakhand) के गठन के 25 साल पूरे होने पर उसका रोडमैप तैयार करने के लिए मंगलवार को तीन दिवसीय चिंतन शिविर का ये कार्यक्रम शुरू हुआ था।

ये भी पढ़ें: Sachin Tendulkar: फैसलाबाद की ग्रीन टॉप विकेट पर जब 16 साल के सचिन के सामने नतमस्तक हुआ था पूरा पाकिस्तान, देखें Video

कैबिनेट की मंजूरी से लागू होंगे फैसले

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि ‘चिंतन शिविर’ में लिए गए फैसलों को कैबिनेट की मंजूरी के बाद लागू किया जाएगा। सीएम धामी ने चिंतन शिविर के तीसरे दिन चर्चा के दौरान कहा कि राज्य में खेती एवं बागवानी को बंदरो द्वारा काफी नुकसान पहुंचाया जा रहा है। जिससे अधिकांश लोग खेती एवं बागवानी में कम रुचि ले रहे हैं। इस वजह से ग्रामीण क्षेत्रों से पलायन भी हो रहा है। सीएम धामी ने यह भी कहा कि वरिष्ठ नौकरशाहों और विभागों को जिम्मेदारी एक-दूसरे के सिर डालने की आदत छोड़नी होगी। इस दिशा में विशेष ध्यान देने की जरूरत है। हमें वन विभाग, कृषि विभाग एवं उद्यान विभाग द्वारा कार्यशाला का आयोजन कर इस समस्या का समाधान निकालना होगा।

ये भी पढ़ें: Dinesh Karthik: दिनेश कार्तिक जल्द ले सकते है अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास, इंस्टाग्राम पर साझा किया इमोशनल वीडियो

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल