Uttarakhand News: उत्तराखंड का आम और शहद हुआ दुबई रवाना, CM धामी ने रवाना की पहली खेप

Date:

Uttarakhand News: उत्तराखंड में उत्पादित आम की पहली खेप एवं शहद को अंतरराष्ट्रीय बाजार दुबई के लिए रवाना किया गया। निर्यात के लिए भेजे वाहन को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशों के क्रम में किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयासों में उत्तराखंड सरकार भी जुट गई है। इसी क्रम में उत्तराखंड के आम व मौन पालकों (मधुमक्खी पालन) के दारा तैयार शुद्ध शहद को पहली बार दुबई के लिये रवाना किया गया है। एपीडा के माध्यम से उत्तराखंड में उत्पादित आम की प्रथम खेप एवं शहद का अंतरराष्ट्रीय बाजार दुबई में निर्यात के लिए भेजे वाहन का सीएम पुष्कर सिंह धामी और कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने फ्लैग ऑफ किया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय से एपिडा के माध्यम से उत्तराखण्ड में उत्पादित आम की पहली खेप, शहद व राजमा के अन्तरराष्ट्रीय बाजार में निर्यात के लिए भेजे जा रहे वाहनों को फ्लैग ऑफ किया। इस मौके पर 1.5 टन आम, 28 टन राजमा एवं 80 टन शहद का अन्तरराष्ट्रीय बाजार के लिए निर्यात किया गया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कही ये बात

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि एपिडा के सहयोग से अन्तरराष्ट्रीय बाजार के लिए राज्य के जो उत्पाद भेजे जा रहे हैं, यह सराहनीय पहल है। सीएम ने उम्मीद जताई कि आने वाले समय में उत्तराखण्ड के स्थानीय उत्पादों की अन्तरराष्ट्रीय मार्केटिंग के लिए गुणात्मक वृद्धि होगी। उत्पादन को कैसे अच्छी मार्केटिंग मिले इस दिशा में सरकार द्वारा लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। उत्पादों की ब्रांडिंग, पैकेजिंग और मार्केटिंग पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

ये भी पढ़ें: Punjab Government Job: पंजाब लोक सेवा आयोग में सरकारी नौकरी पाने का बढ़िया मौका, जानिए योग्यता पद और कैसे करें अप्लाई

सीएम ने कहा कि हमारे स्थानीय उत्पादों को अधिक से अधिक बढ़ावा मिले इसके लिए और अधिक प्रयासों की जरूरत है। राज्य में किसानों की आजीविका को बढ़ाने के लिए एवं आवश्यक सभी व्यवस्थाओं को और प्रभावी बनाने के लिए कृषि कलेण्डर भी बनाया गया है। उत्तराखण्ड के छोटे कृषकों की आर्थिकी को बढ़ाने के लिए कलस्टर के विकास के लिए, सहकारिता, कृषि एवं उद्यान विभाग के माध्यम से अनेक प्रयास किये जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें: Punjab Politics: पंजाब के CM भगवंत मान चंडीगढ़ जिला अदालत में हुए पेश, 2 साल पहले पुलिस दर्ज किया था केस

2025 में उत्तराखण्ड राज्य स्थापना दिवस की रजत जयंती मनायेगा, तब तक किसानों की आजीविका वृद्धि के लिए कृषि, उद्यान, सिंचाई एवं अन्य संबंधित विभाग पॉयलट प्रोजेक्ट के रूप में क्या कर सकते हैं, इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। राज्य के रजत जयंती वर्ष पर सभी विभागों को कुछ ऐसे कार्य करने होंगे, जो देश एवं हिमालयी राज्यों के लिए मॉडल हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में जल्द किसान प्रोत्साहन योजना लाई जायेगी।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related