Homeख़ास खबरेंAfrican Conflicts: चीन के हथियारों की बिक्री से अफ्रीकी देशों में बढ़ा संघर्ष,...

African Conflicts: चीन के हथियारों की बिक्री से अफ्रीकी देशों में बढ़ा संघर्ष, विस्थापित होने पर मजबूर हो रहे लोग

African Conflicts: अफ्रीकी देशों में चीन के हथियारों की बिक्री से वहां के लोगों की जिंदगी ज्यादा प्रभावित हुई है। रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि अफ्रीकी देशों में चीनी हथियारों की बिक्री से संघर्ष काफी बढ़ रहा है और लोग घर छोड़ने पर मजबूर हो गए हैं। है। स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट की एक रिपोर्ट के हवाले से बताया गया है कि चीन चौथी वैश्विक हथियार आपूर्तिकर्ता के रूप में उभर रहा है। साल 2017 और 2021 के बीच कुल वैश्विक हथियारों के निर्यात में चीन का 4.6 फीसदी का हिस्सा है और कुल वैश्विक हथियारों के निर्यात में 10 फ़ीसदी हिस्सा अफ्रीकी देशों के लिए था।

हथियारों की अधिक बिक्री

रिपोर्ट में बताया गया है कि अफ्रीका में चीनी निजी सैन्य कंपनियों की मौजूदगी से मानव अधिकारों के उल्लंघन और अवैध गतिविधियों में वृद्धि के अलावा देश में बिजिंग के हस्तक्षेप को बढ़ाने की उम्मीद है। चीन पीएससी का उपयोग अफ्रीका में एक विवेकपूर्ण सैन्य उपस्थिति बनाए रखने और एक अन्य औपनिवेशिक शक्ति के रूप में देखे जाने से बचने के लिए चाल के रूप में कर रहा है। हथियारों की इस कदर बिक्री के कारण अनुमान लगाया जा रहा है कि 90 के दशक से अफ्रीका में संघर्षों में लाखों लोग मारे गए हैं।

Also Read: Myanmar: सरकारी हेलीकॉप्टर ने गांव और स्कूल पर किया हमला, 7 बच्चों समेत 13 लोगों की मौत

50 लाख बच्चों की मौत

द लैंसेट मेडिकल जर्नल द्वारा 2018 में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार 1995 और 2015 के बीच सशस्त्र संघर्षों के कारण 5 साल से कम उम्र के 50 लाख बच्चों की मौत हो गई। इनमें से करीब 30 लाख बच्चे एक साल या उससे कम उम्र के थे। आंकड़ों के अनुसार 2021 में संघर्ष या हिंसा के कारण दुनिया भर में 14.4 मिलियन लोगो को विस्थापित होने पर मजबूर होना पड़ा है। जानकारों की राय के मुताबिक जब तक चीन जैसे देश अपना नजरिया नहीं बदलते और अफ्रीकी देशों में हथियारों की बिक्री पर शर्ते नहीं लगाते, तब तक पूरे महाद्वीप में हथियारों की अवैध प्रसार को रोका नहीं जा सकता।

Also Read: Multiplex: तीन दशक बाद घाटी में फिर से शुरू किया मल्टीप्लेक्स, आज से की स्क्रीनिंग

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -

Latest Post

Latest News

- Advertisement -