Homeख़ास खबरें12 घंटे की पूछताछ के बाद आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी, SIT आशीष...

12 घंटे की पूछताछ के बाद आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी, SIT आशीष के जवाबों से नहीं हुई संतुष्ट

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आखिरकार लंबी पूछताछ के बाद आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है। आपको बता दें कि शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच ऑफिस पहुंचे थे।

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आखिरकार लंबी पूछताछ के बाद आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है। आपको बता दें कि शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच ऑफिस पहुंचे थे। जहां मजिस्ट्रेट के सामने घटना को लेकर 12 घंटों तक सवाल-जवाब हुए। जिसके बाद देर रात उनकी गिरफ्तारी कर ली गई है। इस पूरी घटना के करीब 6 दिनों के बाद यूपी पुलिस कार्रवाई करती हुई दिखाई दी है।

12 घंटे तक चली पूछताछ


इस पूरी पूछताछ के दौरान अपने वकील के साथ आशीष मिश्रा मौजूद रहे। बताया जा रहा है इस 12 घंटे की पूछताछ में डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल और लखीमपुर के एसडीएम भी शामिल थे। लखीमपुर कांड पर डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने कहा कि हम आशीष मिश्रा को कस्टडी में ले रहे हैं। सहारनपुर के डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि पूछताछ में सहयोग नहीं करने और कुछ सवालों के जवाब नहीं देने पर गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को गिरफ्तार किया गया है। उसे कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो आशीष मिश्रा 3 अक्टूबर को दोपहर 2:36 बजे से 3:30 बजे के बीच अपने ठिकाने का सबूत नहीं दे सके।

यह भी पढ़े: लखीमपुर हिंसा मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा पहुंचे क्राइम ब्रांच , अजय मिश्रा ने किया बेटे का बचाव

पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

गौरतलब है कि कल 8 अक्टूबर को पुलिस ने आरोपी को आज 9 अक्टूबर को सुबह 11 बजे पेश होने के लिए नया नोटिस जारी किया। आशीष मिश्रा को धारा 160 सीआरपीसी के तहत नोटिस जारी किया गया, जो गवाहों की उपस्थिति से संबंधित है।इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा है कि हम राज्य मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने, उनके बेटे की तत्काल गिरफ्तारी और सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में ही सुप्रीम कोर्ट के जज से जांच कराने की मांग करते हैं। चूंकि आरोपी शक्तिशाली है, इसलिए उसे सरकार द्वारा बचाया जा रहा है।दूसरी तरफ लखीमपुर खीरी हिंसा के दौरान तीन भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या पर बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि यह कार्रवाई की प्रतिक्रिया थी। इसमें कोई योजना शामिल नहीं थी और यह हत्या की राशि नहीं है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKTWITTER और INSTAGRAM पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -spot_img