Homeख़ास खबरेंDelhi: यातायात के नियमों को सख्त बनाने के लिए बस लाइन नियमों...

Delhi: यातायात के नियमों को सख्त बनाने के लिए बस लाइन नियमों का पालन, उल्लंघन करने पर रद्द होगा लाइसेंस

Delhi: दिल्ली में ड्राइवरों के लिए यातायात के नियमों को और भी सख्त बनाया जा रहा है। दिल्ली परिवहन विभाग ने इस साल अप्रैल में सड़क अनुशासन सुधारने, लेन ड्राइविंग और सड़कों पर भीड़-भाड कम करने के लिए ‘बस लेन अनुशासन’ में अभियान शुरू किया था। इसके तहत यह तय किया गया था कि बसों समेत सभी तरह के भारी वाहन सड़क के सबसे बाईं और चलेंगे और इस नियम का उल्लंघन करने वालों पर 5000 रुपए का चालान काटा जाएगा।

ड्राइविंग लाइसेंस रद्द किया जाएगा

अब यदि दिल्ली में आप तीन बार से अधिक बस लाइन के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करते हुए पाए जाते हैं तो आपका ड्राइविंग लाइसेंस रद्द किया जाएगा। परिवहन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक ड्राइविंग लाइसेंस को दोबारा बहाल करवाने के लिए एक महीने का रिफ्रेशर कोर्स करना होगा। एक अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक इस साल अप्रैल और मई के महीने में परिवहन विभाग ने बस लाइन के नियमों का उल्लंघन करने पर 44,554 भारी वाहनों का चालान काटा था। इनमें से 1591 चालान लेने के नियमों का उल्लंघन करने पर बस चालकों के लिए किए गए थे।

Also Read: Flipkart Big Billion Days Sale 2022: Google Pixel फोन पर 10,000 की भारी छूट, आज ही खरीदें

बहाल करने का अधिकार

बस लाइन में पार्किंग करने पर प्राइवेट गाड़ी मालिक का 43 हजार चालान किया गया। इसके अलावा गलत जगह पार्किंग करने पर 526 गाड़ियों को क्रेन की मदद से भी उठाया गया। बनाए गए नियम के तहत परिवहन विभाग ने डीटीओ को लाइसेंस इन प्राधिकरण नियुक्त किया था। 1988 की धारा 19 के तहत बस लाइन के नियमों का लगातार तीन बार उल्लंघन करने पर उसका ड्राइविंग लाइसेंस रद्द करने और उसे बहाल करने का अधिकार था। परिवहन विभाग ने नामित अधिकारियों से कहा कि लाइसेंस स्थगित किए जाने पर तब तक बहाल नहीं होगा जब तक कि आरोपी ड्राइवर नंद नगरी क्षेत्र डीटीसी के ट्रेनिंग स्कूल में रिफ्रेशर कोर्स नहीं कर लेता।

Also Read: Uttarakhand: निजी अस्पतालों में सिजेरियन डिलीवरी की सुविधा बंद, आयुष्मान कार्ड लाभार्थियों को नहीं मिलेगा लाभ

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -

Latest Post

Latest News

- Advertisement -