Madhya Pradesh: EOW की छापेमारी के दौरान नगद मिले 85 लाख रुपए, हीरो केसवानी ने पी फिनायल

0
3

Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले मेडिकल कॉलेजेस में मेडिकल की शिक्षा दी जाती हैं। लेकिन यहां के क्लर्क भ्रष्टाचार की शिक्षा दे रहे हैं। कल बीते बुधवार को भोपाल के उपनगर बैरागढ़ में रहने वाले हीरो केसवानी के घर आय से अधिक संपत्ति के मामले में EOW की टीम ने छापा मारा था। टीम को 25 लाख रुपए की नगदी के साथ-साथ ज्वेलरी और एक दर्जन से ज्यादा जमीनों के कागजात मिले हैं।

करीब 85 लाख रुपए नगद

क्लर्क के पास ईडी की छापेमारी के बाद करीब 85 लाख रुपए नगद साथ ही जमीनी कागज और ज्वेलरी भी बरामद की गई। मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग में क्लर्क की हैसियत से काम करने वाले हीरो केसवानी को प्रति महीने 50 हजारों रुपए की तनखा मिलती हैं। लेकिन उससे कई गुना ज्यादा नगदी उनके घर से बरामद की गई। EOW की छापेमारी के दौरान कार्यवाही से घबराकर हीरो ने घर में रखी फिनायल की बोतल पी ली थी।

Also Read: Meerut: दिल्ली से मेरठ तक 2 चरणों में शुरू होगी मेट्रो सेवा, कम समय में तय होगा रास्ता

पति पत्नी को बनाया आरोपी

हीरो को हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया अभी उनकी हालत में सुधार बताया जा रहा है। EOW ने इस मामले में हीरो के स्वामी और उनकी पत्नी नैना केसवानी को आरोपी बनाया है और उन पर अपराध क्रमांक 73/2022 धारा 13 (1) भी और 13 (2) भ्रष्टाचार निवारण संशोधन अधिनियम 2018 धारा 109 भारतीय दंड विधान के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Also Read: Brain Tumor: ब्रेन ट्यूमर के लक्षण और कारण, भूलकर भी ना करें ये अनदेखी

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।