- विज्ञापन -

Latest Posts

Navjot Singh Sidhu जल्द ही हो सकते हैं जेल से रिहा, जानिए वजह

Navjot Singh Sidhu: रोडरेज मामले में पिछले 6.5 महीनों से सजा काट रहे नवजोत सिंह सिध्दू के लिए 26 जनवरी का दिन काफी खुशखबरी भरा हो सकता है। उन्हें जेल में अच्छे आचरण को लेकर गणतंत्र दिवस पर रिहा किया जा सकता है। इस साल रिहाई के लिए जेल प्रशासन ने जिन कैदियों के नाम भेजे हैं उसमें सिध्दू का नाम भी शामिल है।

अच्छे आचरण के कारण मिली राहत

नवजोत सिंह सिध्दू पिछले एक साल से रोडरेज के 34 साल पुराने मामले में पटियाला जेल में सजा काट रहे हैं। अब सिध्दू को बड़ी राहत मिल सकती है। अच्छे आचरण के कारण गणतंत्र दिवस पर पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सिध्दू को जेल से रिहा किया जा सकता है। जानकारी के लिए बता दें की सिध्दू अब तक 6.5 महीन की सजा काट चुके हैं। जेल में सिध्दू का अच्छा आचरण पाया गया। उन्हें क्लर्क के तौर पर जेल के कामकाज की जिम्मेदारी दी गयी थी। उन्होंने एक भी दिन की कोई छुट्टी नहीं ली थी। और यहीं सब चीजें रियायत के लिए उनकी दावेदारी मजबूत कर रही है। मगर अभी यह कड़ी पंजाब सरकार के ही हाथ में है। अंतिम फैसला उन्ही का होगा।

Must Read: THE KASHMIR FILES: प्रोपेगेंडा वाले बयान पर इजराइली राजदूत ने मांगी भारत से माफी, कहा- ‘हम शर्मिंदा हैं’

यह है पूरा मामला

27 दिसंबर 1988 की शाम को सिध्दू अपने दोस्त रूपिंदर सिंह संधू के साथ पटियाला के शेरावाले गेट की मार्किट में पहुंचे थे। यह जगह उनके घर से ठीक 1.5 किलोमीटर दूर है। यह वो वक्त था जब उनका अंतरराष्ट्रीय करियर शुरू हुए एक ही साल हुआ था। इसी मार्किट में कार पार्किंग को लेकर उनकी 65 साल के बुजुर्ग गुरनाम सिंह से कुछ कहासुनी हो गयी थी। और बात इतनी बढ़ी की हाथापाई तक जा पहुंची। सिध्दू ने गुरनाम सिंह को गुठना मारकर गिरा दिया। इसके तुरंत बाद गुरनाम सिंह को अस्पताल ले जाया गया। गुरुनाम सिंह की अस्पताल में ही मौत हो गयी। रिपोर्ट्स के अनुसार उनकी मौत दिल का दूर पड़ने से हुई थी।

Must Read: UP POLITICS: सीएम योगी के पेंडुलम वाले बयान पर अखिलेश यादव का पलटवार, चाचा शिवपाल का किया बचाव

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल