- विज्ञापन -

Latest Posts

Punjab: कृषि मंत्री धालीवाल ने खत्म कराया दल्लेवाल का आमरण अनशन, सरकार-किसान में बनी सहमति

Punjab: पंजाब में भारतीय किसान यूनियन के प्रमुख जगजीत सिंह दल्लेवाल ने कल गुरुवार को नौवें दिन अपना धरना खत्म करने का ऐलान किया। पंजाब सरकार के कृषि मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल कल गुरुवार को धरना स्थल पर पहुंचे और मैराथन बातचीत के बाद मांगों पर आम सहमति बनने की घोषणा की गई। कृषि मंत्री ने दल्लेवाल को जूस पिलाकर धरना खत्म करवाया। इसके बाद दल्लेवाल ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि “पंजाब के 6 क्षेत्रों में किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी था, जिसे अब वापस लिया गया है।”

16 दिसंबर को होगी मंत्रिमंडल की बैठक

कृषि मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल का कहना है कि “हमने मैराथन बैठक की थी और खुशी की बात यह है कि हम आम सहमति पर आए। किसानों के मंत्रिमंडल के साथ 16 दिसंबर को चंडीगढ़ में बैठक होगी। किसानों के विरोध पर सीएम की टिप्पणी किए जाने पर माफी की मांग के बाद धालीवाल ने कहा कि कुछ गलतफहमी हुई थी, क्योंकि ‘आप’ सरकार हमेशा किसान कल्याण के लिए खड़ी है।” बता दें कि फरीदकोट में धरना स्थल पर देर रात कृषि मंत्री धालीवाल ने दल्लेवाल को जूस पिलाया। इसके साथ ही उन्होंने अपना आमरण अनशन खत्म किया।

Also Read- UP News: गोरखपुर दौरे पर सीएम योगी देंगे 3500 करोड़ रूपए की सौगात, पांच साल में बदल जाएगा गीडा का पूरा परिदृश्य

पराली पर लगे भारी जुर्माने का विरोध कर रहे किसान

बता दें कि पंजाब के किसान पराली जलाने पर भारी जुर्माने का विरोध कर रहे हैं। इसके अलावा खराब मौसम और कीटों के हमले से भी फसल क्षति के लिए कम मुआवजे का विरोध है। पराली जलाने के मुद्दे पर कृषि मंत्री ने किसानों को आश्वासन भी दिया है कि वे पंजाब विलेज कॉमन लैंड एक्ट पर उनकी चिंताओं पर गौर करेंगे। इसके अलावा किसानों के खिलाफ दर्ज हुए सभी केस वापस ले जाएंगे। कहा गया है कि कि पराली का मुद्दा किसानों को दंडित करने के लिए नहीं है। लेकिन हमें एक समाधान खोजना होगा। इसके अलावा फसल क्षति के मुआवजे का भुगतान भी 31 दिसंबर तक किया जाएगा।

Also Read- Uttarakhand: चार धाम यात्रा को लेकर सीएम पुष्कर सिंह धामी ले सकते हैं बड़ा फैसला, साल में एक बार कर सकेंगे दर्शन

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल