Homeपॉलिटिक्सSaharanpur Rally: अखिलेश ने BJP सरकार पर साधा निशाना, कहा- सरकार के...

Saharanpur Rally: अखिलेश ने BJP सरकार पर साधा निशाना, कहा- सरकार के लोग गाड़ियों के नीचे किसानों को कुचल देते हैं

सहारनपुर के तीतरो में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने लोगों से कहा कि किसान विरोधी सरकार को प्रदेश से उखाड़ फेंकना है. अखिलेश ने रैली के मंच से लुभावने वादे भी किए.

रविवार को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सहारनपुर के तीतरो में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए लोगों से आह्वान किया कि किसान विरोधी सरकार को उत्तर प्रदेश से उखाड़ फेंकना है. इस दौरान मंच से समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने जनसभा में आए लोगों से लुभावने वादे भी करते नजर आए. सहारनपुर में आयोजित जनसभा के मंच से अखिलेश यादव ने कहा, ” आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव किसानों और युवाओं के भविष्य को तय करेगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अब आपको तय करना है कि अपने बच्चों और युवाओं का भविष्य बनाना है या अंधकार में डालना है. संबोधन के दौरान सपा अध्यक्ष ने उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि यह सरकार सिर्फ नाम बदलना जानती है काम करना नहीं, ये धुआं उड़ाने वालों की सरकार है. इसे सिर्फ धुंआ उड़ाना आता है और कुछ नहीं.” बता दें कि उक्त बातें रविवार को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादन ने सहारनपुर में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही.

आपको बता दें कि अखिलेश यादव ने जनसभा के संबोधन के दौरान अधिकतर बार लखीमपुर खीरी हिंसा की ओर लोगों को ध्यान आकर्षित कराते हुए दिखे. उन्होंने बीजेपी सरकार पर तंज कसते हुए कहा, “सरकार के लोग गाड़ियों के नीचे किसानों को कुचल देते हैं. यह सरकार किसानों को कुचलने वाली सरकार है. इसलिए अब इस सरकार को हटाने का वक्त आ गया है.” बता दें कि अपने संबोधन के दौरान उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में चल रहे जांच पर भी बड़े सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि मंत्री जी के सामने कौन अधिकारी निष्पक्ष जांच कर सकता है. जो भी अधिकारी जांच करने जाएगा वह पहले मंत्री जी को सलूट मारेगा और फिर पूछेगा और जब चलने लगेगा तो फिर मंत्री जी को सलूट मारेगा. यह सलूट मारने वाले अधिकारी मंत्री जी के सामने निष्पक्ष जांच कर पाएंगे. इसीलिए मंत्री को खुद नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए नहीं तो सरकार को खुद उन्हें मंत्री पद से बर्खास्त करना चाहिए. बता दें कि उक्त बातें रविवार को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादन ने सहारनपुर में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही.

गौरतलब है कि पिछले रविवार को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर-खीरी जिले में तिकोनिया-बनबीरपुर रोड पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे से पहले हुई हिंसा में अब तक आठ लोगों की मौत हो गई है. किसान केशव प्रसाद मौर्य के दौरे के दौरान किसान कृषि विरोधी कानूनों का विरोध कर रहे थे. तभी अचानक एसयूवी कार ने किसानों को कुचल डाला. इसके बाद इलाके में हिंसा भड़क गई. दोनों एसयूवी केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र के काफिले की बतायी जा रही हैं. हादसे से भड़के किसानों ने सड़क पर जमकर बवाल किया और एसयूवी कार के ड्राइवर को पीट-पीटकर मार डाला था.

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं.

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -spot_img