- विज्ञापन -

Latest Posts

The Kashmir Files: प्रोपेगेंडा वाले बयान पर इजराइली राजदूत ने मांगी भारत से माफी, कहा- ‘हम शर्मिंदा हैं’

The Kashmir Files: विवेक अग्निहोत्री की “द कश्मीर फाइल्स” को लेकर एक बार फिर एक नया विवाद खड़ा हो गया है। इस बार इस फिल्म को इजराइली फिल्म मेकर ने कंट्रोवर्सी के बीच खड़ा कर दिया है। इजराइली फिल्म मेकर नादव लैपिड ने इस फिल्म को अश्लील और प्रोपोगेंडा वाली फिल्म करार दिया है। लेकिन इसके तुरंत बाद ही इजराइल ने अपनी गलती मान ली है। इसे लेकर इजराइल के राजदूत नाओर गिलोन ने भारत से माफी मांग ली है। उन्होंने लैपिड के बयान खेद जताते हुए कहा कि “मुझे नादव लैपिड के बयां पर शर्म आ रही है। “

इजरायली राजदूत ने लिखा लैपिड को पत्र

इजराइल के फिल्म मेकर यादव लैपिड के इस आलोचनात्मक बयान के बाद इजरायली राजदूत ने लैपिड को एक खुला पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में कहा कि “आपको शर्म आनी चाहिए।” उन्होंने फटकार लगते हुए इस बात पर भी जोर दिया कि कैसे भारत पर इजराइल के बीच दोस्ती के संबंध हैं। उन्होंने यह भी सुनिश्चित किया कि उसके इस बयान से आगे कोई नुकसान नहीं होगा।

Must Read: UP POLITICS: सीएम योगी के पेंडुलम वाले बयान पर अखिलेश यादव का पलटवार, चाचा शिवपाल का किया बचाव

इजराइली राजदूत ने जमकर लताड़ा

इजराइली राजदूत ने कहा कि “भारत और इजराइल के बीच दोस्ती काफी गहरी है। नादव लैपिड के बयान से कोई भी नुकसान नहीं होगा। हमें उनके इस बायान पर शर्म आती है और हम अपने मेजबानों से इसके लिए माफी मांगना चाहते हैं। इजराइल में आपको जो नापसंद है उसकी आप आलोचना कर सकते हैं, लेकिन दूसरे देशों पर बयान देने की कोई जरुरत नहीं है।”

कौन हैं नादव लैपिड

नादव लैपिड एक इजराइली फिल्म मेकर हैं। इनका जन्म इजराइल के टेल अवीव में हुआ। उन्होंने टेल अवीव विश्विद्यालय से दर्शनशास्त्र की पढ़ाई की है। फिल्म मेकिंग में कदम रखने से से पहले वे इजराइल की सेना में अपनी सेवा दे चुके हैं। सैन्य सेवा देने के बाद उन्होंने यरूशलम में सैम स्पीगल फिल्म एंड टेलीविजन स्कूल से डिग्री ली और फिर वह पेरिस चले गए। यूं तो उन्होंने कई फिल्में बनाई हैं लेकिन नादव लैपिड को शार्ट फिल्म और डॉक्युमेंट्रीज के लिए जाना गया।

Must Read: THE KASHMIR FILES: ‘वल्गर प्रोपेगेंडा’ बताने वाले इजराइली फिल्ममेकर को अनुपम खेर की फटकार – ‘भगवान सद्बुद्धि दे’

दी हैं कई बेहतरीन फिल्में

लैपिड ने सिनेमा जगत को कई बेहतरीन फिल्में दी हैं। वह सिनोनिम्स (2019), द किंडरगार्टन टीचर (2014) और पुलिसमैन (2011) जैसी कई शानदार फिल्मों के लिए जाने जाते हैं। नादव लैपिड लोकार्नो फिल्म फेस्टिवल में गोल्डन लेपर्ड जूरी के सदस्य, 71 वें बर्लिन इंटरनेशनल फिल्म में ‘आधिकारिक प्रतियोगिता’ जूरी के सदस्य और 2016 के कान फिल्म फेस्टिवल में इंटरनेशनल क्रिटिक्स वीक जूरी के सदस्य रहें हैं।

Must Read: BHARAT JODO YATRA ने किया राजस्थान की ओर अपना रुख, सियासी बादलों को देख घबराए कांग्रेस आलाकमान

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल