Homeख़ास खबरेंMaharashtra Political Crisis: उद्धव ठाकरे की अपील बेअसर, जानें- महाराष्ट्र में सरकार...

Maharashtra Political Crisis: उद्धव ठाकरे की अपील बेअसर, जानें- महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए क्या कहता है सीटों का समीकरण

महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 287 विधानसभा सदस्य हैं। प्रदेश में सरकार बनाने के लिए किसी भी दल को 144 सीटों का समर्थन होना चाहिए। उधर, विपक्ष के पास 113 सदस्य हैं। ऐसे में एकनाथ शिंदे अगर अपने साथ सिर्फ 30 या उससे अधिक विधायकों को लेकर बीजेपी के साथ जाते हैं तो निश्चिततौर पर उद्धव सरकार के लिए मुश्किलें खड़ी हो जाएगी।

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के लिए सरकार बचा पाना किसी चुनौती से कम नहीं दिख रहा है। प्रदेश में छाए सियासी संकट के बीच शिंदे गुट में लगातार शिवसैनिकों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। ऐसे में लोगों की जुबान पर यह आने लगा है कि कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर चल रही उद्धव सरकार बचेगी या गिरेगी? बहरहाल, इस सबके बीच उद्धव ठाकरे से नाराज चल रहे एकनाथ शिंदे का बड़ा दावा सामने आया है। उनके मुताबिक, गुवाहटी में 39 विधायक उनके साथ वहां मौजूद हैं और उन्हें 45 से 50 विधायकों का समर्थन मिल सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, गुवाहाटी में मौजूद शिंदे गुट के साथ शिवसेना के और विधायकों की जुड़ने की उम्मीद है। यह संख्या अधिक हो सकती है। वहीं दूसरी तरफ उद्धव और शरद पवार सरकार बचाने के लिए प्रयासरत दिख रहे हैं। लेकिन, परिस्थिति इन दोनों दिग्गज नेताओं के सामने अनुकूल नहीं नजर आ रही है। हालांकि, अटकलों का बाजार गर्म है। कयास लगाए जा रहे है कि बीजेपी और शिंदे के बीच नए समीकरण पर बातचीत हो सकती है। आइये जानते हैं कि महाराष्ट्र में विधानसभा सीटों का समीकरण क्या कहता है।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 287 विधानसभा सदस्य हैं। प्रदेश में सरकार बनाने के लिए किसी भी दल को 144 सीटों का समर्थन होना चाहिए। प्रदेश की ताजा हालात को लेकर बात की जाए यहां महाविकास अघाड़ी सरकार को 169 सदस्यों का समर्थन प्राप्त है। उधर, विपक्ष के पास 113 सदस्य हैं। इसमें ध्यान देनी बात यह है कि बीजेपी के पास 106 सदस्य है। आरएसपी के पास 1 सदस्य, जेएसएस के पास 1 और 5 निर्दलीय विधायक हैं। इस सबके बीच एकनाथ शिंदे अगर अपने साथ सिर्फ 30 या उससे अधिक विधायकों को लेकर बीजेपी के साथ जाते हैं तो निश्चिततौर पर उद्धव सरकार के लिए मुश्किलें खड़ी हो जाएगी।

यह भी पढ़ें: National ByPolls LIVE: देश की तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग आज, 26 जून को आएंगे नतीजे

बता दें, इससे पहले बुधवार को महाराष्ट्र सियासी संकट के बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री ने फेसबुक लाइव करते हुए अपनी बातें रखी थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि मुझे किसी पद से कोई मोह नहीं है। जिस समय मैं मुख्यमंत्री बना उस समय भी मेरे लिए ये पद अनापेक्षित था। इसलिए अगर मेरे किसी विधायक को लगता है कि मैं कुर्सी पकड़कर बैठने वाला हूं तो वो गलत हैं। उन्होंने आगे अपनी बातों को रखते हुए साफतौर पर कहा था कि मैंने अपना इस्तीफा पत्र और बोरिया-बिस्तर तैयार रखा हुआ है। तुम मेरे सामने आओ, मेरा इस्तीफ़ा पत्र लेकर जाओ। बता दें कि इस दौरान उद्धव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे पर जमकर निशाना साधा।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -