Homeलाइफ़स्टाइलक्या परेशानियों के कारण आपका साथी हो गया है चिड़चिड़ा? तो आजमाइए...

क्या परेशानियों के कारण आपका साथी हो गया है चिड़चिड़ा? तो आजमाइए ये खास टिप्स

अक्सर ऐसा देखने को मिलता है कि कई बार आपके और आपके साथी के खुशमिजाज रिश्ते के बीच में तकरार और रूखापन बढ़ जाता है। कभी-कभी इन परेशानियों से रिश्ते में बहुत ज्यादा तनाव रहने लगता है। ऐसे में यह समझना बहुत मुश्किल हो जाता है कि आखिर रिलेशनशिप में ऐसी कौन सी कमी है जिसे आप दोनों मिलकर पूरा नहीं कर पा रहे? ऐसी कौन सी वजह है जिसकी वजह से यह रूखापन दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है? आइए आज हम आपको बताते हैं कि आखिर वह कौन सी बातें हो सकती हैं, जो एक हंसते-खेलते रिलेशनशिप में तकरार और दरार का काम कर सकती है। आज ना सिर्फ हम आपको इन  परेशानियों को समझने की टिप्स देंगे बल्कि इस दिक्कत से किस तरह निपटे इसके लिए भी कई आसान तरीके बताएंगे।

अपने पार्टनर की छोटी-छोटी गलतियों को अनदेखा करें।

कई बार ऐसा होता है कि आपका साथी छोटी-छोटी बातों पर बहुत ज्यादा गुस्सा हो जाता है, पर ऐसे समय में जरूरी है कि आप थोड़ी समझदारी दिखाएं और एक आदर्श पार्टनर होने के नाते ना सिर्फ अपने साथी से प्यार से बात करें, बल्कि कुछ देर के लिए संयम रखें। हो सकता है कि आपका स्नेह और संयम आपके साथी के गुस्से को प्यार में तब्दील कर दें। कभी-कभी आपके साथी के गुस्से की असल वजह कोई बड़ी परेशानी या पर्सनल दिक्कत होती है। ऐसे में जरूरी है कि आप उन्हें समझने की कोशिश करें। ना कि पलटकर उन पर गुस्सा करें।

साथ रहकर सुलझाएं मसले।

हर बार एक-दूसरे पर गुस्सा करके और बातों को बिगाड़ कर ना सिर्फ आपका रिश्ता खराब होगा, बल्कि आप लोगों में एक दूसरे के प्रति नफरत वाले भाव भी बढ़ने लगेंगे। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने साथी को समझने के लिए उनसे बात करें और प्यार से पूछे कि उन्हें क्या परेशानी है। हो सकता है कि आपका साथी आपके पूछने के बाद अपनी परेशानी खुलकर आपके सामने बताएं। ध्यान रहे कि जब आपका साथी ही बहुत ज्यादा तनाव में या परेशानी में हो, तो उसे अकेला ना छोड़े बल्कि उनके साथ हमेशा डटकर खड़े रहे और उन्हें इमोशनली सपोर्ट करें। आपका भावनात्मक स्नेह और इमोशनल सपोर्ट उन्हें सुकून देगा और मन हल्का करने में मदद करेगा।

परेशानियों से घिरा तो नहीं है आपका साथी?

रिलेशनशिप में जरूरी है कि आप अपने साथी को समझने के साथ-साथ उसकी परेशानियों को भी भांपने की क्षमता रखें। समय-समय पर अपने पार्टनर से पूछे कि उन्हें कोई दिक्कत तो नहीं है। क्योंकि कभी-कभी ऐसा भी हो सकता है कि आपका साथी अकेले ही किसी परेशानी से बुरी तरह जूझ रहा हो? इसलिए जरूरी है कि आप उनके साथ समय जरूर बिताए और उनसे प्यार से पूछे कि उन्हें कोई परेशानी यह तनाव तो नहीं है। यकिन मानियेगा यदि आप उनके हिस्से का समय निकालकर उनके साथ बैठेंगे, तो हो सकता है कि आपके रिलेशन में कभी तकरार आए ही ना।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -