Homeपॉलिटिक्सहरिद्वार में ऑटो वालों के साथ अरविंद केजरीवाल ने की चर्चा, कहा-...

हरिद्वार में ऑटो वालों के साथ अरविंद केजरीवाल ने की चर्चा, कहा- दिल्ली के ऑटो वालों से पूछ लो….

हरिद्वार में सभा को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, "दिल्ली में उस वक्त ऑटो वालों को लोग नफरत की नज़र से देखते थे, माफिया कहते थे. जब मैंने ऑटो वालों से बात करनी शुरू की, तो कुछ लोगों ने कहा कि जनता आपके खिलाफ हो जाएगी.

देश के अलग-अलग राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, जिसको लेकर आम आदमी पार्टी ने कमर कस ली है. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उत्तराखंड में पार्टी के लिए मैराथन प्रचार अभियान शुरू कर दिया है. आज वो हरिद्वार पहुंचे, जहां उन्होने ऑटो वालों से बातचीत की. उन्होने कहा कि, “एक ऑटो वाला हर दिन कमाता खाता है, आज यहां आने के लिए सबने एक दो सवारी गंवाई होगी. दिल्ली के ऑटो वाले हमारे इतने मुरीद क्यों हैं? 7-8 साल पहले जब हमने राजनीति में कदम रखा था, तब ऑटो वालों से सम्पर्क हुआ. दिल्ली में हमारी सरकार बनी तो इसमें 70 फीसदी योगदान ऑटो वालों का है.”

‘दिल्ली में हमने पूरा सिस्टम ठीक किया’
हरिद्वार में सभा को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, “दिल्ली में उस वक्त ऑटो वालों को लोग नफरत की नज़र से देखते थे, माफिया कहते थे. जब मैंने ऑटो वालों से बात करनी शुरू की, तो कुछ लोगों ने कहा कि जनता आपके खिलाफ हो जाएगी. एक ऑटो वाला पुलिस, RTO सबको पैसे देता है. यहां कानून इतने मुश्किल हैं कि ईमानदारी से ऑटो वाला काम नहीं कर सकता. मैंने रामलीला मैदान में ऑटो वालों की मीटिंग बुलाई थी, मैंने कहा कि अगर ये माफिया होते तो बड़ी बिल्डिंग में रहते. ये नहीं बल्कि राजनीतिक पार्टियां माफिया हैं.”

ऑटो वाला सीधे मैसेज कर सकता है’
अरविंद केजरीवाल ने अपने संबोधन में ऑटो वालों को अपना भाई बताया. उन्होने कहा कि, “आज दिल्ली के ऑटो वाले मुझे अपना भाई मानते हैं, भारत के इतिहास में शायद अकेला मुख्यमंत्री हूं जिसे ऑटो वाला सीधे मैसेज कर सकता है. ऑटो फिटनेस का चार्ज अब दिल्ली सरकार देती है. अब आपको RTO जाने की जरूरत नहीं है. फिटनेस छोड़कर सभी काम ऑनलाइन कर सकते हैं. कोरोना में सबकी दिहाड़ी खराब हुई, हमने पहली वेव में डेढ़ लाख ऑटो वालों के एकांउन्ट में 5-5 हजार जमा किए. दोबारा 1.80 लाख ऑटो वालों के एकांउन्ट में पैसे भेजे”

यह भी पढ़े:संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में नहीं शामिल होंगे राकेश टिकैत, सिंघु बॉर्डर पर हो रही है अहम बैठक

सीएम केजरीवाल ने साफ कहा कि, आपके बच्चों की जिम्मेदारी मेरी है. उन्होने कहा कि, “हमने एक नम्बर जारी किया है, ऑनलाइन काम करना नहीं आता तो उसपर कॉल करो, वहां से आदमी आकर काम करके जाएगा. बीमारी में बेस्ट इलाज होगा. इंश्योरेंस से बड़ी चीज है कि दिल्ली के किसी भी नागरिक को कोई भी बीमारी हो 70 लाख का भी खर्च हो, दिल्ली सरकार वहन करती है. दिल्ली में अलग से पहले पार्किंग नहीं थी, अभी उनके लिए 500 स्टैंड बनाए हैं. कोरोना के दौरान आप लोगों को हुए नुकसान की भी भरपाई करेंगे”

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -