Homeदेश & राज्यउत्तराखंडपौड़ी गढ़वाल की चौबट्टाखाल सीट से चुनाव लड़ सकते हैं हरक सिंह,...

पौड़ी गढ़वाल की चौबट्टाखाल सीट से चुनाव लड़ सकते हैं हरक सिंह, जानें

डीएनपी डेस्क: हरक सिंह रावत के कांग्रेस ज्वाइन करने के बाद से उत्तराखंड की राजनीति में सियासी घमासान मचा हुआ है. उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच आमने-सामने की मुकाबला देखी जा रही है. हालांकि यहां की राजनीति में आम आदमी पार्टी की इंट्री भाजपा और कांग्रेस को चुनौती दे रही है. इसके सबके बीच प्रदेश की राजनीति में बड़ा नाम रखने वाले हरक सिंह रावत ने भारतीय जनता पार्टी से निष्कासित होने के बाद अपनी सियासी सफर की शुरुआत कांग्रेस में घर वापसी कर की है. हरक सिंह रावत को भले ही भारतीय जनता पार्टी ने निष्कासित कर दाव चली हो, लेकिन राजनीतिक जानकार मानते हैं कि इससे भारतीय जनता पार्टी को बड़ा नुकासान उठाना पड़ सकता है.

बहरहाल कांग्रेस नेता हरक सिंह रावत की विधानसभा चुनाव लड़ने की चर्चा अब जोरों पर है. कांग्रेस भी इस मौके पर बड़ा दाव खेलकर गोल करने की कोशिश करेगी. सूत्रों के मुताबिक मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस अब राज्य के बड़े बीजेपी नेता सतपाल महाराज के खिलाफ चौबट्टाखाल सीट से हरक सिंह रावत को उतारने की तैयारी में है. बता दें कि शनिवार देर रात कांग्रेस ने उत्तारखंड विधानसभा चुनाव के लिए अपने 53 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की. हालांकि, इस लिस्ट में भाजपा छोड़कर कांग्रेस ज्वाइन करने वाले उत्तराखंड के दिग्गज नेता हरक सिंह रावत का नाम शामिल नहीं है. सूत्रों की मानें तो पार्टी अब अपने इस नेता के जरिए बीजेपी के दिग्गज नेता और मुख्यमंत्री धामी सरकार में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज को घेरेगी.

यह भी पढ़ें:नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती आज, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने ट्वीट कर दी श्रंद्धाजलि

बताते चलें कि उत्तराखंड की सत्ता हासिल करने के लिए भाजपा को पौड़ी गढ़वाल जिले का चौबट्टाखाल विधानसभा सीट को जीतना अहम माना जा रहा है. इसके पीछे की दिलचस्प कहानी यह है कि चौबट्टाखाल विधानसभा क्षेत्र में महाराज के परिवार का सदियों से दबदबा रहा है. प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत चौबट्टाखाल विधानसभा सीट से विधायक रह चुके हैं. इसके अलावा बात की जाए तो भाजपा के एक और मुख्यमंत्री रहे त्रिवेंद्र सिंह रावत का चौबट्टाखाल विधानसभा क्षेत्र से खास नाता रहा है. वे इसी क्षेत्र के मूल निवासी है. इस लिहाज से उत्तारखंड की सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी के लिए चौबट्टाखाल विधानसभा सीट को जीतना चुनौती बना हुआ है और कांग्रेस इसे हासिल करने के लिए पहाड़ की राजनीति में जीत का इक्का कहे जाने वाले हरक सिंह रावत को यहां से मैदान में उतारकर भाजपा का खेल बिगाड़ सकती है.

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -