Homeपॉलिटिक्सAryan के समर्थन में बोलीं महबूबा मुफ़्ती, कहा- खान सरनेम होने के...

Aryan के समर्थन में बोलीं महबूबा मुफ़्ती, कहा- खान सरनेम होने के कारण हुई गिरफ्तारी

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने आर्यन का समर्थन करते हुए, केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया है कि, खान सरनेम होने की वजह से आर्यन के साथ ये सब हो रहा है।

मुंबई के चर्चित क्रूज ड्रग्स केस में फंसे बॉलीवुड के स्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ़्तारी को लेकर जमकर सियासत हो रही है। अब जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने आर्यन का समर्थन करते हुए, केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया है कि, खान सरनेम होने की वजह से आर्यन के साथ ये सब हो रहा है। इसके अलावा महबूबा मुफ़्ती ने लखीमपुर खीरी कांड को लेकर भी केंद्र को निशाने पर लिया और आरोप लगाया कि, मंत्री के बेटे की खूब आवभगत हो रही है।

महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया
पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, ”चार किसानों की हत्या के आरोपी केंद्रीय मंत्री के बेटे के मामले में मिसाल देने के बजाए केंद्रीय एजेंसियां 23 साल के लड़के के पीछे पड़ी हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि उसका उपनाम खान है. न्याय की विडंबना है कि भाजपा के मूल वोट बैंक को खुश करने के लिए मुसलमानों को टागेट किया जा रहा है.”

केंद्र पर राजनीतिक लाभ का आरोप
महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर राजनीतिक लाभ लेने का आरोप लगाया। इसके साथ हीं खुद को नज़रबन्द किए जाने का दावा किया. उन्होंने कहा कि, “जम्मू-कश्मीर में हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं. अनंतनाग जिले में गत गुरुवार को सीआरपीएफ कर्मियों की गोलियों से ढेर हुए एक मुस्लिम व्यक्ति के परिजनों से मिलने न देने के लिए मुझे नजरबंद रखा गया है.”

कश्मीर के हालात बिगड़ रहे हैं- मुफ़्ती
महबूबा ने ट्वीट किया, ”जम्मू-कश्मीर की स्थिति बद से बदतर होती चली गई है. मेरा डर इस तथ्य से और भी बढ़ गया है कि सुधार के बजाय, भारत सरकार चुनावों में राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए बाहुबल के इस्तेमाल की नीति जारी रखेगी. इसका कारण उत्तर प्रदेश में होने वाला अगला चुनाव है.’’

यह भी पढ़े – पुलिस टीम ने घटनास्थल पर खंगाले सुबूत, CCTV कैमरे को खंगाला, 12 घंटे पूछताछ के बाद आशीष मिश्रा गिरफ्तार

उन्होंने आगे लिखा, ”आज एक बार फिर नजरबंद हूं. सीआरपीएफ के साथ मुठभेड़ में मारे गये निर्दोष नागरिक के परिवार से मिलने जाना चाहती थी. भारत सरकार चाहती है कि हम चुनिंदा हत्याओं की निंदा करें. वे केवल उन मामलों में नाराज होते हैं, जहां नफरत की राजनीति लोगों का ध्रुवीकरण करने के लिए शुरू की जा सकती है.’’

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं.

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -spot_img