Homeराज्यउत्तर प्रदेशUp Election 2022: उत्तर प्रदेश में सियासत का सुपर संडे, वाराणसी से...

Up Election 2022: उत्तर प्रदेश में सियासत का सुपर संडे, वाराणसी से प्रियंका की ललकार तो सहारनपुर में अखिलेश ने की आरोपों की बौछार

उत्तर प्रदेश में सियासत के सुपर संडे को विपक्षी दलों ने बीजेप के खिलाफ जमकर हुंकार भरी। एक तरफ जहां वाराणसी में कांग्रेस की किसान न्याय रैली हुई तो दूसरी तरफ सहारनपुर में अखिलेश ने मंच संभालते ही बीजेपी सरकार पर आरोपों की बौछार कर दी। उत्तर प्रदेश में 2022 के रण के लिए सियासी घमासान तेज हो चुका है। उत्तर प्रदेश में मुद्दे तो कई हैं लेकिन इस वक्त विपक्ष को लखीमपुर खीरी हिंसा का जो मुद्दा मिला उससे सत्तापक्ष पर जमकर प्रहार किया जा रहा है। काशी में बाबा विश्वनाथ के दर्शन कर प्रियंका गांधी ने मंच संभाला तो लखीमपुर खीरी को लेकर सरकार पर बरस पड़ीं। प्रियंका ने कहा कि यूपी में किसानों जीप से कुचला जा रहा है और विपक्ष के नेताओं को रोकने के लिए पुलिस की नाकेबंदी कर दी गई। तो वही सहारनपुर में अखिलेश यादव ने भी लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर करारा प्रहार किया। प्रियंका ने लखीमपुर खीरी को लेकर दो टूक कहा कि जब तक केंद्रीय गृह राज्यमंत्री टेनी का इस्तीफा नहीं हो जाता हम चुप नहीं बैठेंगे।

सहारनपुर में गरजे अखिलेश

सहारनपुर में अखिलेश यादव ने जनसभा करते हुए भाजपा की केंद्र और प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला। अखिलेश ने कहा कि, त्योहारों के बाद योगी सरकार के दिन खत्म होने वाले हैं। उन्होंने कहा कि धोखा देने वालों और झूठ बोलने वालों से सावधान रहें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी योगी आदित्यनाथ सिर्फ नाम बदलने में विश्वास रखते हैं नाम बदलने के अलावा प्रदेश में कोई विकास कार्य नहीं कराया गया। केंद्र सरकार के खिलाफ उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट भेज दिए ट्रेन भेज दी बंदरगाह भेज दिए।  इसके अलावा उन्होंने पश्चिमी यूपी के राजनीति की धुरी किसानों की नब्ज पर भी खूब हाथ रखा। कहा कि समाजवादी पार्टी किसान को साथ लेकर चलने वाली पार्टी है, लेकिन इनकी सरकार में किसान को गाड़ी से कुचला जाता है। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, भाकियू के संस्थापक चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत और पूर्व मंत्री चौधरी यशपाल सिंह का जिक्र कर भावनात्मक रूप से लोगों को अपने साथ जोड़ने की कोशिश भी करते नजर आए। 

काशी में प्रियंका की दहाड़

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने किसान न्याय रैली में सीएम योगी और पीएम मोदी पर हमला किया। प्रियंका गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत सोनभद्र की घटना से की। उन्होंने कहा कि जब मैंने यहां कार्यभार ग्रहण किया, सोनभद्र में पुलिस प्रशासन के सहयोग से आदिवासी किसानों की जमीन पर कब्जा कर लिया गया। उन्होंने विरोध किया तो 13 आदिवासियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जब मैं वहां मिलने पहुंची तो गिरफ्तार कर लिया गया। उस मामले में भाजपा के एक पूर्व विधायक, भाजपा के लोग उसमें भी इन्वाल्व थे। अब लखीमपुर में हुई घटना में भी भाजपा के लोग शामिल हैं।

PM पर प्रियंका का हल्ला बोल

प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी को घेऱते हुए कहा कि खुद को गंगापुत्र कहने वाले प्रधानमंत्री ने किसानों का अपमान किया। प्रियंका ने महंगाई, रोजगार और किसानों के मुद्दे को लेकर बीजेपी पर आरोपों की बौछार कर दी। प्रियंका गांधी ने लखनऊ की बाल्मीकि बस्ती का उदाहरण देते हुए कहा कि, मैं सफाई कर्मचारियों और उनके बच्चो से मिलीं किसी के पास नौकरी नहीं है। पढ़े लिखे युवा आज बेरोजगार हैं। प्रियंका गांधी ने बाबा विश्वनाथ की नगरी से सत्ता को ललकारते हुए कहा कि बीजेपी तीनों कृषि कानून अपने तीन खरपति मित्रों के लिए लेकर आई है।

देश में सुरक्षित कौन ?

प्रियंका गांधी ने कहा कि इस देश में सिर्फ दो तरह के लोग सुरक्षित हैं। एक भाजपा का नेता और दूसरा उसका खरपति मित्र। इस देश में किसी धर्म का व्यक्ति सुरक्षित नहीं है। न किसी जाति का व्यक्ति सुरक्षित है। न महिलाएं सुरक्षित हैं और न ही कोई किसान-दलित सुरक्षित है। इस बात को पहचानिये। पेट्रोल पंपों पर जो बड़ी-बड़ी होर्डिंग लग रही है, उसे पहचानिये। सच्चाई को पहचानिये। आप किस चीज से डर रहे हैं। डरिये नहीं, समय आ गया है। चुनाव की बात नहीं है अब देश की बात है।

प्रियंका दिला पाएंगी कांग्रेस को सत्ता ?

चुनावी रैली को संबोधित करने से पहले प्रियंका ने बाबा विश्वनाथ का आशीर्वाद लिया और फिर मंच पर पहुंची। वाराणसी में प्रियंका गांधी का अलग अंदाज दिखा। मां कुष्मांडा देवी का दर्शन कर बाहर निकलने के बाद उन्होंने महिला आरक्षी को गले लगा लिया। प्रियंका गांधी ने गले लगा कर महिला आरक्षी की पीठ भी थपथपाई। कांग्रेस भी कहीं न कहीं सॉफ्ट हिंदुत्व के एजेंडे को भी पीछे नहीं छोड़ना चाहती है। क्योंकि बीजेपी की काट का भी यही फॉर्मूला है विपक्ष अब ये जान चुका है। लेकिन देखना ये होगा कि 2022 में प्रियंका का ये जोश कांग्रेस का सूखा खत्म कर पाता ये या नहीं।

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -spot_img