CWG 2022: अपने पहले ही कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग ले रही भारतीय मुक्केबाज नीतू ने फाइनल में मारी एंट्री, सोना के लिए अब लड़ेगी

CWG 2022: भारतीय महिला मुक्केबाज नीतू ने 45-48 किग्रा मिनिममवेट का सेमीफाइनल मैच जीत कर फाइनल में जगह पक्की कर ली है। इस जीत के साथ नीतू ने अपना सिल्वर मेडल पक्का कर लिया है।

भारतीय मुक्केबाज नीतू घंघास ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में महिला बॉक्सिंग की मिनीममवेट कैटेगरी (45-48kg) का सेमीफाइनल मुकाबला जीत लिया है। इस मैच में उन्होंने कनाडा की प्रियंका ढिल्लों को शिकस्त देकर फाइनल में जगह बनाई। इसी के साथ मुक्केबाजी में भारत का पहला सिल्वर मेडल भी पक्का हो गया।

नीतू ने तीसरे राउंड में कनाडाई बॉक्सर पर इतने मुक्के बरसाए कि रेफरी को खेल रोककर नीतू को विजेता घोषित करना पड़ा। इससे पहले क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भी नीतू ने इसी तरह एकतरफा अंदाज में जीत हासिल की थी।

21 साल की नीतू पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा ले रही हैं। वह भारतीय लीजेंड बॉक्सर मैरीकॉम की वैट कैटगरी में खेल रही हैं। अपने पहले ही कॉमनवेल्थ गेम्स में उन्होंने दमदार प्रदर्शन करते हुए एक के बाद एक फाइट जीतकर फाइनल में जगह बनाई है। क्वार्टर फाइनल मुकाबले में नीतू ने आयरिश बॉक्सर क्लाइड निकोल पर ऐसे मुक्के बरसाए थे कि दो राउंड के बाद ही उन्हें विजेता घोषित कर दिया गया था।

ये भी पढ़ें: Team India Schedule: टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले भारत का दौरा करेगी ऑस्ट्रेलिया-दक्षिण अफ्रीका, बीसीसीआई ने जारी किया शेड्यूल

नीतू हरियाणा के भिवानी जिले के धनाना गांव की रहने वाली हैं। वह रोजाना अपने गांव से 20 किमी दूर धनाना स्थित बॉक्सिंग क्लब में ट्रेनिंग के लिए जाया करती थीं। नीतू को बॉक्सर बनाने के लिए उनके पिता ने अपनी नौकरी तक दांव पर लगा दी थी।

ये भी पढ़ें:  Uttarakhand News: चम्पावत में तिरंगा रैली में जा रहे 5वीं के छात्र को कैंटर ने कुचला, मौके पर ही हुई दर्दनाक मौत

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Zeen is a next generation WordPress theme. It’s powerful, beautifully designed and comes with everything you need to engage your visitors and increase conversions.