CWG 2022: अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने भारतीय महिला टीम से मांगी माफी,’घड़ी विवाद’ मामले की होगी समीक्षा

Date:

CWG 2022: बिर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में महिला हॉकी सेमीफइनल के दौरान कुछ ऐसा हुआ जिससे भारत को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, शुक्रवार को भारतीय महिला हॉकी टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। पहले तीन क्वार्टर तक 1-0 से पिछड़ने के बाद भारतीय टीम ने चौथे क्वार्टर में वापसी की और वंदना कटारिया ने 49वें मिनट में गोल दाग स्कोर 1-1 कर दिया। ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम के सामने भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया।

भारतीय टीम को करना पड़ा बेईमानी का सामना

फुल टाइम तक स्कोर 1-1 से बराबर रहने के बाद मैच पेनल्टी शूटआउट में पहुंचा। शूटआउट में भारतीय टीम को बेईमानी का सामना करना पड़ा। इससे केवल महिला हॉकी टीम को ही बल्कि पूरे भारत की गोल्ड मेडल की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, फुल टाइम का तक नतीजा ना निकलने के बाद मैच शूटआउट तक पहुंचा। वहां भारतीय कप्तान और गोलकीपर कविता पूनिया ने पहले शूट बचाया लेकिन, टाइमर ही चालु नहीं किया गया। इस मौके का फायदा उठाके ऑस्ट्रेलिया ने अगले शूट में गोल दाग दिया। इसके बाद शूटआउट में ऑस्ट्रेलिया ने लगातार 3 गोल दागे वहीं, भारतीय टीम एक गोल करने भी सफल नहीं हुई। यह देखने के बाद भारतीय फैंस में काफी आक्रोश है। फैंस अंतरराष्ट्रीय हॉकी फेडरेशन (FIH/एफआईएच) पर बेईमानी करने का आरोप लगा रहे हैं। मैच में विवाद के बीच भारतीय कोच भी रेफरी से भीड़ गईं थी।

Also Read – CWG 2022 Medal Tally: ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच नंबर 1 की जंग, सिर्फ 9 मेडल पीछे है इंग्लैंड

अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने भारतीय टीम से मांगी माफी

इस टाइमर से जुड़े विवाद पर अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने भारतीय टीम से माफी मांगी है। इतना ही नहीं वह इस पूरी घटना की समीक्षा करेगा। पेनल्टी शूटआउट के दौरान अपना पहला प्रयास चूकने वाली ऑस्ट्रेलिया की रोजी मेलोन को दूसरा मौका दिया गया क्योंकि तब टाइमर को चालु नहीं किया गया था। दूसरे मौके में उन्होंने गोल दागा जो भारतीय टीम के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं था।

मैच के दौरान दर्शकों ने भी तकनीकी अधिकारियों के फैसले का विरोध किया। इस बढ़ते विवाद को देख अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने भारतीय टीम से माफी मांगी है। एफआईएच ने बयान में कहा, ‘‘बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में ऑस्ट्रेलिया और भारत की महिला टीमों के बीच खेले गए सेमीफाइनल मैच के दौरान शूटआउट गलती से बहुत जल्दी शुरू हो गया था (तब टाइमर संचालित होने के लिए तैयार नहीं था) जिसके लिए हम माफी मांगते हैं। ’’

बयान में आगे कहा गया है, ‘‘इस तरह की परिस्थिति में दोबारा पेनल्टी शूटआउट लेने की प्रक्रिया है और ऐसा किया भी गया। एफआईएच इस घटना की पूरी जांच करेगा ताकि भविष्य में इस तरह के मसलों से बचा जा सके।’’

Also Read – CWG 22 Wrestling: 8 वें दिन दिखा भारतीय पहलवानों का जादू, जानिए मेडल टैली का हाल

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related