Homeस्पोर्ट्सआईपीएल करवाने की मांग में यूएई सबसे आगे, 17 जुलाई को बीसीसीआई...

आईपीएल करवाने की मांग में यूएई सबसे आगे, 17 जुलाई को बीसीसीआई की होगी बैठक

भारतीय क्रिकेटरों को वापस ट्रेनिंग और मैंच की पटरी में लाने की चर्चा भी होगी।

आईपीएल का 13वा सीजन का आगाज इस साल मार्च के अंत में होना था, लेकिन कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते फिलहाल के लिए उसे रद्द कर दिया गया था। आईपीएल के आयोजन रद्द होने के बाद कई अटकलें लगाई जा रही थी, की इस प्रतियोगिता का आयोजन भारत के बाहर भी हो सकती है।


क्या हो सकता है इस साल का आईपीएल?


17 जुलाई को बीसीसीआई आईपीएल के भविष्य पर बैठक करेगी, जिसके बाद एक चीज तो साफ हो जाएगी की इस साल आईपीएल होगी की नहीं? इस बैठक में फिलहाल ट्रेनिंग से दूर भारतीय क्रिकेटरों को वापस ट्रेनिंग और मैंच की पटरी में लाने की चर्चा भी होगी। कुछ खिलाड़ियों ने अपनी ट्रेनिंग शुरू कर दी है, लेकिन अभी भी कुछ ऐसे खिलाड़ी है, जो कोरोनावायरस के संक्रमण के बीच ट्रेनिंग करने में कतरा रहे हैं।


आईपीएल की मांग में यूएई है सबसे आगे


श्रीलंका और यूएई ने बीसीसीआई को पहले ही अपनी अर्जी दे दी थी, कि वह आईपीएल कराने को तैयार है। बीसीसीआई के सूत्रों के मुताबिक आईपीएल यूएई में कराने की संभावना और भी ज्यादा बढ़ चुकी है। इससे पहले साल 2009 में लोकसभा चुनाव के चलते आईपीएल का आयोजन दक्षिण अफ्रीका में हुआ था, जबकि साल 2014 में आईपीएल का आधा सीजन यूएई में खेला गया था।


कितनी है आईपीएल आयोजन की भारत में संभावना?


इससे पहले बीसीसीआई की बैठक में आईपीएल का आयोजन भारत में ही कम से कम मैदानों में कराने का प्रस्ताव रखा गया था, लेकिन कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते उस प्रस्ताव को खारिज किया गया था। अब हमें देखना यह होगा कि आईपीएल का भविष्य क्या होगा, हमें इस साल आईपीएल देखने को मिलेगा या नहीं?

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -

Latest Post

- Advertisement -
Exit mobile version