Homeटेक & ऑटोएंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन के लिए करना होगा और इंतजार, कंपनी ने जारी किया...

एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन के लिए करना होगा और इंतजार, कंपनी ने जारी किया बयान

फेसबुक(मेटा) ने कुछ महीनों पहले घोषणा की थी कि कंपनी जल्दी यूजर्स को एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन का ऑप्शन भी देगी। जो यूजर्स की चैट और निजी चीजों को सुरक्षा प्रदान करेगा। लेकिन अब लगता है कि कंपनी एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन रोल आउट करने में असफल होती दिख रही है।

फेसबुक(मेटा) ने कुछ महीनों पहले घोषणा की थी कि कंपनी जल्दी यूजर्स को एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन का ऑप्शन भी देगी। जो यूजर्स की चैट और निजी चीजों को सुरक्षा प्रदान करेगा। लेकिन अब लगता है कि कंपनी एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन रोल आउट करने में असफल होती दिख रही है। कंपनी ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि ऐप्स पर मैसेजिंग एन्क्रिप्शन अब 2023 में आएगा। यानी यूजर्स को इस फीचर का लाभ उठाने के लिए 2 साल का इंतजार करना होगा। कंपनी के मुताबिक ये इसलिए लिया जा रहा है कि ताकि एक ही साथ मैसेंजर और इंस्टाग्राम चैट्स में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन ग्लोबली रोल आउट किया जा सके।

2023 में कंपनी ला सकती है एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन


कहा जा रहा है कि फेसबुक और इंस्टाग्राम पर एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन को रोल आउट करने की योजना में बाल सुरक्षा को लेकर विवाद के बीच देरी हो रही है एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन फीचर आने से आपकी चैट बिल्कुल सुरक्षित हो जाएगी। इसमें केवल भेजने और संदेश प्राप्त करने वाला शख्स ही देख पाएगा। अभी तक सारी मैसेज और डिटेल कंपनी के सर्वर पर रहते हैं। हालांकि, बाल संरक्षण समूहों और राजनेताओं ने चेतावनी दी है कि यह बाल शोषण की जांच कर रही पुलिस को बाधित कर सकता है। नेशनल सोसाइटी फॉर द प्रिवेंशन ऑफ क्रुएल्टी टू चिल्ड्रन (NSPCC) ने दावा किया है कि निजी संदेश “बाल यौन शोषण की फ्रंट लाइन है। ब्रिटेन की गृह सचिव प्रीति पटेल ने भी इस तकनीक की आलोचना करते हुए कहा है कि इस साल की शुरुआत में यह ऑनलाइन बाल शोषण सहित आपराधिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने में कानून प्रवर्तन को “गंभीर रूप से बाधित” कर सकती है।

यह भी पढ़े: Amazon और Apple पर 17 अरब रुपये का जुर्माना, जानें- इटली में कौन सी गलती की मिली सजा

लंबा हुआ यूजर्स का इंतजार


बता दें कि एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन फोन और अन्य उपकरणों के बीच यात्रा करते समय डेटा को “स्क्रैंबलिंग” या एन्क्रिप्ट करके काम करता है। अप्रैल में फेसबुक ने टेलीग्राफ को बताया था कि  कंपनी फेसबुक और इंस्टाग्राम में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन 2022 में देगी। लेकिन अब लगता है कि ऐसा कुछ नहीं है। बता दें कि हाल ही में WhatsApp ने अपने बैकअप के लिए भी एंड टु एंड एन्क्रिप्शन का ऐलान किया है। इसका मतलब ये है कि अब चैट्स के बैकअप भी सिक्योर होंगे।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

Enter Your Email To get daily Newsletter in your inbox

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest पोस्ट

Related News

- Advertisement -