- विज्ञापन -

Latest Posts

Fake Identity: इस तरह से नहीं खरीद पाएंगे सिम, वॉट्सऐप, टेलीग्राम पर दी फर्जी पहचान तो होगी जेल

Fake Identity: अगर आप सोशल मीडिया के मशहूर प्लेटफॉर्म जैसे वॉट्सऐप, टेलीग्राम और सिग्नल ऐप का इस्तेमाल करते हैं तो आपको इस खबर पर जरूर ध्यान देना चाहिए। आपको बता दें कि टेलीकॉम मंत्रालय ने इस संबंध में एक ताजा बिल के जरिए इसको प्रस्तावित किया है।

ऐसे में अब फर्जी तरीके से सिम खरीदने वाले और वॉट्सऐप, टेलीग्राम और सिग्नल ऐप पर अपनी गलत जानकारी देने वालों के खिलाफ अब अड़ी कार्रवाई की जाएगी। बताया जा रहा कि इस प्रस्ताव के मुताबिक, अब कोई भी व्यक्ति फर्जी पहचान पर सिम लेता है तो उसे  1 साल की जेल और 50,000 रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा।

ये भी पढ़ें: E-Vino Electric Scooter चुटकियों में होता है चार्ज, जानें कीमत और फीचर

दूरसंचार विभाग ने दी ये जानकारी

दूरसंचार विभाग ने इस बिल को प्रस्तावित किया है, ताकि देश में बढ़ते ऑनलाइन ठगी के मामलों में कमी आए। बीते कुछ समय में ऑनलाइन ठगी के मामलों में काफी बढ़ोतरी हुई है। ऐसे में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर लोगों के साथ बढ़ते आर्थिक नुक्सान को रोकने के लिए ये कदम उठाया जाएगा। देश में फर्जी पहचान के साथ सिम खरीदे के मामले काफी तेजी से बढ़ें हैं। ऐसे में ठगी करने वाले लोग अपनी असली पहचान को छुपाकर लोगों को ठगी का शिकार बनाते हैं।

गलत पहचान नहीं बता सकते

दूरसंचार विभाग ने इस संबंध में कहा कि इस कानून के आने से लोगों को काफी राहत मिलेगी। आर्थिक तौर पर हो रहे लोगों को नुकसान से बचाया जा सकेगा। ऐसे में इस बिल में सही जगह पर लोगों की पहचान वाले नियम को लागू किया गया है। दूरसंचार विभाग ने बताया कि इस बिल के सेक्शन 4 के सब सेक्शन 7 में लोगों को अपनी असली पहचान बताना जरूरी है। इस बिल के जरिए लोगों को यूजर को ये अधिकार मिलेगा कि उनके पास आने वाली कॉल किसके जरिए की जा रही है।

ऐसा करने पर मिलेगी कड़ी सजा

टेलीकॉम सर्विस लेने वाला यूजर्स अगर अपनी गलत पहचन बताता है उसे 1 साल की सजा, 50,000 रुपये का जुर्माना और साथ ही यूजर की सर्विस को निलंबित भी की जा सकता है। वहीं, विशेष स्थिति में इन तीनों ही नियमों को लागू किया जा सकता है। फर्जी पहचान के आधार पर सिम या किसी प्लेटफॉर्म पर गलत पहचान बताना एक गंभीर अपराध माना जाएगा। ऐसे में पुलिस बिना वारंट के भी गिरफ्तार कर सकती है। साथ ही अदालत की मंजूरी के बिना ही मामले की जांच शुरु कर सकता है।

Also Read: Relationship Tips: हेल्थी रिलेशनशिप के लिए कुछ आसान टिप्स जरूर फॉलो करें

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल