- विज्ञापन -

Latest Posts

Washington Sundar: करियर की पहली फिफ्टी लगाने वाले Sundar जब Karthik के सवाल पर भूल गए स्टेडियम का नाम, देखें मजेदार Video

Washington Sundar: भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों टी-20 और वनडे सीरीज समाप्त हो चुकी है। बारिश से बाधित इस सीरीज में पहले भारत ने टी-20 श्रृंखला 1-0 से अपने नाम की और फिर न्यूजीलैंड ने वनडे सीरीज पर 1-0 से कब्जा किया। वहीं भारत के लिए वनडे सीरीज निराशाजनक रही जहां न्यूजीलैंड के आगे भारतीय टीम संघर्ष करती दिख रही थी। भारत के लिए ऑलराउंडर वाशिंगटन सुन्दर (Washington Sundar) ने सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने तीसरे और आखिरी मैच में अर्धशतक ठोक कर भारत को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। सुन्दर ने इससे पहले दूसरे मैच में भी अच्छी बैटिंग की थी। वहीं तीसरे मैच की समाप्ति के बाद सुन्दर पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर मुरली कार्तिक के सवाल पर फंसते हुए नजर आए। उनके इस मोमेंट को सोशल मीडिया पर काफी पसंद किया जा रहा है।

जब कार्तिक के सवाल पर फंस गए सुन्दर

तीन मैचों की वनडे सीरीज के आखिरी मैच में टीम इंडिया ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी की लेकिन वाशिंगटन सुन्दर (Washington Sundar) और श्रेयस अय्यर को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज मैच में नहीं चल सका। भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी ने मैच में अपनी पारी के दौरान संभलकर खेलते हुए कुछ अच्छे शॉट भी लगाए। सुन्दर ने संघर्ष कर रही भारतीय टीम को संकट से निकालते हुए अपने करियर का पहला अर्धशतक लगाया।

क्राइस्टचर्च की मुश्किल पिच पर वाशिंगटन सुन्दर ने 64 गेंदों पर 51 रन की पारी खेली। वहीं मैच के बाद वह मुरली कार्तिक के सवाल पर तब फंस गए। जब वह न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के मौसम के बीच में समानता बताते हुए कहा कि निश्चित रूप से, मैनचेस्टर में लंकाशायर के लिए खेलना बहुत ठंडा था। जिसके बाद सुन्दर लंकाशायर से तुलना करते हुए ये भूल गए कि वह कौन-से मैदान पर हैं। उनको फंसता देख कार्तिक ने हंसते हुए उन्हें बताया कि हम क्राइस्टचर्च में हैं।

ये भी पढ़ें: RISHABH PANT: NEW ZEALAND के खिलाफ आउट होने के बाद TEAM INDIA का यह खिलाड़ी हुआ जमकर TROLL, यूजर्स ने लगाई लताड़

कोच की बातों को फॉलो किया

जहां भारतीय टीम लगातार अंतराल पर विकेट खोल रही थी। वहीं सुन्दर ने शानदार बैटिंग का उदाहरण देते हुए एक छोर पकड़ कर भारत को 219 के स्कोर तक पहुंचाया। मैच के बाद कार्तिक से बात करते हुए सुन्दर ने कहा, “मेरे पास कोच की ओर से कुछ संदेश आ रहा था और मैं सिर्फ संदेश के अनुसार बैटिंग करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहता था।”

उन्होंने आगे कहा, “मैंने चीजों को बहुत सरल रखने की कोशिश की। बस देखा। और महसूस किया कि मैं अगर खुद को समय देता हूं तो इस चुनौतीपूर्ण परिस्थिति को हैंडल कर सकता हूं।” आपको बता दें स्टार ऑलराउंडर ने दूसरे मैच में भारतीय टीम के लिए 37 रनो की तेज़-तर्रार पारी खेली थी जिसको फॉलो करते हुए उन्होंने तीसरे मैच में भी 5 चौके और 1 छक्के की मदद से 51 रनो की पारी खेलते हुए करियर की पहली फिफ्टी लगाई। उन्होंने अपनी इस उपलब्धि को विपक्षी टीम के सबसे वरिष्ठ गेंदबाज टिम साउथी पर छक्का लगाते हुए हासिल किया। हालांकि वह अपनी पारी को आगे नहीं बढ़ा सके और दो गेंद बाद आउट हो गए।

ये भी पढ़ें: LEE GERMON: गायकवाड़ नहीं बल्कि इस 54 वर्षीय खिलाड़ी ने लगाए थे एक ओवर में सबसे ज्यादा छक्के, ठोके थे 22 गेंद में 77 रन

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल