- विज्ञापन -

Latest Posts

Russia-Ukraine War: पहले की अपेक्षा तेज हुए रूस के हमले, यूक्रेन को घुटनों पर लाने के लिए कर सकता है खतरनाक जहर का इस्तेमाल

Russia-Ukraine War: रूस लगातार यूक्रेन पर हमलावर है लेकिन अब धीरे-धीरे रूस की पकड़ कमजोर पड़ रही है। इसी बीच अमेरिकी अधिकारियों ने इस बात का अंदेशा जताया है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के खिलाफ घातक हमलों में खतरनाक नोविचोक जहर का सहारा ले सकते हैं। बताया गया है कि यह वही रासायनिक हथियार है जिसका रूस अतीत में इस्तेमाल कर चुका हैं। पूर्व जासूस सर्गेई स्क्रिपल को मारने के लिए इसी जहर का इस्तेमाल किया गया था।

रासायनिक हथियार का इस्तेमाल

बता दें कि युद्ध शुरू होने के बाद से अभी तक रूसी राष्ट्रपति की कोई भी रणनीति सफल नहीं हुई। इसके अलावा रूसी सेना के कब्जे वाले यूक्रेनी शहर खेरसान में भी पुतिन को पीछे हटने पर मजबूर होना पड़ा। ऐसे में अब इस बात की आशंका बढ़ गई है कि पुतिन यूक्रेन को अपने घुटनों पर लाने के लिए खतरनाक घातक नोविचोक जहर का इस्तेमाल कर सकता है। बता दें कि पुतिन के प्रतिद्वंदी माने जाने वाले एलेक्सी नवलनी पर भी इस रासायनिक हथियार का इस्तेमाल किया था।

नोविचोक का इस्तेमाल कर सकता है रूस

वहीं अमेरिकी अधिकारियों का मानना है कि रूस ने अभी तक इस नर्व एजेंट नोविचोक का इस्तेमाल कुछ चुनिंदा लोगों पर किया था। लेकिन अब बड़े पैमाने पर लोगों को नुकसान पहुंचाने के लिए यूक्रेन में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। दिल्ली स्टार की खबर के हवाले से कहा गया है कि “अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन अब यह सुनिश्चित करने का काम कर रहे हैं कि पूर्वी यूरोपीय देश इस हमले के लिए तैयार रहें। खुफिया सूत्र भी इस बात से चिंतित है कि रूस यूक्रेन को परमाणु हमले या फिर डर्टी बम के इस्तेमाल से आत्मसमर्पण करने के लिए मजबूर करने का प्रयास कर सकता है।”

Also Read- Cyber Crime: खराब फोन को कबाड़ समझकर बेचने वाले हो जाएं सावधान, वरना हो जाएंगे कंगाल

पहले से तेज हुए रूस के हमले

बता दें कि रूस के हमले अब पहले से ज्यादा तेज हो गए हैं। रूस के पीछे हटने के बाद से पहली बार खेरसान में ईंधन डिपो पर हमला किया गया था। वहीं यूक्रेनी राष्ट्रपति के कार्यालय के अनुसार इस बात का खुलासा हुआ कि इस हफ्ते रूसी गोलाबारी में कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई है और 3 लोग भी घायल हुए हैं। रूसी हमलों ने बुनियादी ढांचे को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। जिससे एक भयानक मानवीय संकट पैदा हुआ हैं। यूक्रेन की राजधानी कीव के करीब 70% हिस्से में बिजली का संकट खड़ा हो गया है।

Also Read- सिंगल चार्ज में 307KM की रेंज पर तूफान को भी उड़ा देती है Ultraviollete F77 Electric Motorcycle, देखें धांसू फीचर्स

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल