16वीं शताब्दी की मिट्टी की डिश की कीमत जानकर उड़ जाएंगे आपके होश, सिर्फ एक चित्र की वजह से करोड़ों में लगी कीमत

पुरानी चीजों की गिनती एंटीक चीजों में होती है और कोई भी चीज जितनी पुरानी होगी, उसकी कीमत भी इतनी ही ज्यादा होगी। ऐसे ही पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को 16वीं शताब्दी की एक यूरोपियन डिश मिली थी जो अब 13 करोड़ रूपये में बिकी है

21

पुरानी चीजों की गिनती एंटीक चीजों में होती है और कोई भी चीज जितनी पुरानी होगी, उसकी कीमत भी इतनी ही ज्यादा होगी। ऐसे ही पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को 16वीं शताब्दी की एक यूरोपियन डिश मिली थी जो अब 13 करोड़ रूपये में बिकी है.. हो गये ना हैरान…इस 16वीं सदी की डिश जिसमें कलाकार निकोला दा उरबिनो का बाइबिल का बनाया एक चित्र बना हुआ है। इस चित्र की वजह से ही दशकों पुरानी ये डिश 13 करोड़ में बेची गई है। ब्रिटिश नीलामीकर्ता लियोन एंड टर्नबुल ने कहा कि फर्म के यूरोपीय सिरेमिक विशेषज्ञ स्कॉटिश बॉर्डर्स में एक देश के लोवुड हाउस की सामग्री की जांच कर रहे थे। उसी जांच के वक्त दराज में रखा हुआ ये डिश मिला।

उम्मीद से तीन गुना महंगी बिकी डिश


कहा जा रहा है कि ये डिश सैमसन और डेलीला की बाइबिल की कहानी के एक सीन को दर्शाता है। इसे कलाकार निकोला दा उरबिनो ने 1520-23 के आसपास बनाया था। इतालवी मिट्टी से बने बर्तन को माईओलिका के रूप में जाना जाता है। पहले से लेकर आज तक इन बर्तनों का चलन है लेकिन आज इनका इस्तेमाल कम हो गया है। मिट्टी की बनी ये डिश 109,000 और $ 163,000 तक के बीच बेचे जाने की उम्मीद थी लेकिन बुधवार की ऑनलाइन नीलामी के दौरान माओलीका ने 1,721,000 डॉलर में बेचा और सभी उम्मीदों को तोड़ते हुए तीन गुना ज्यादा दाम में डिश को बेचा।

Advertisement

यह भी पढ़े:पुरातत्व विभाग के हाथ लगा 2700 साल पुराना शौचालय, आधुनिक तकनीक से बनाया गया था लग्जरी शौचालय

इजरायल में मिला था 2700 साल पुराना शौचालय


हाल ही में इजरायल के पुरातत्व विभाग ने एक बहुत पुराना शौचालय ढूंढा था। जिसे लग्जरी शौचालय कहा गया था। अधिकारियों ने मंगलवार को जानकारी देते हुए कहा कि इजरायल के पुरातत्वविदों को 2,700 साल से ज्यादा पुराना और दुर्लभ प्राचीन शौचालय मिला है। ये शौचालय यरूशलेम में मिला है।पुराने समय में ये स्नानघर लग्जरी में गिने जाते थे और इनको बहुत ही पवित्र माना जाता था। इजराइल पुरावशेष प्राधिकरण ने कहा कि चिकना, नक्काशीदार चूना पत्थर शौचालय एक आयताकार केबिन पाया गया था जो एक विशाल हवेली का हिस्सा था जो अब पुराना शहर है। इसे आराम से बैठने के लिए डिज़ाइन किया गया था, जिसके नीचे एक गहरा सेप्टिक टैंक खोदा गया था। खुदाई के निदेशक याकोव बिलिग ने जानकारी देते हुए बताया कि प्राचीन समय में एक निजी शौचालय कक्ष बहुत दुर्लभ होते थे और वो केवल कुछ ही घरों में पाए जाते थे।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं।