मंगलवार, जुलाई 23, 2024
होमख़ास खबरेंरेल मंत्री Ashwini Vaishnaw का बड़ा ऐलान, यात्रियों की सुविधा के लिए...

रेल मंत्री Ashwini Vaishnaw का बड़ा ऐलान, यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे को दिए जाएंगे 2500 जनरल कोच, जानें डिटेल

Date:

Related stories

Ashwini Vaishnaw: भारतीय रेल में यात्रा करने वाले यात्रियों को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बड़ी खुशखबरी दी है। दरअसल मीडिया से बात करते हुए अश्विनी वैष्णव ने कहा कि आगामी दिनों में कई रूटों पर नई ट्रेन से लेकर 2500 से अधिक जनरल कोच रेलवे को दिए जाएंगे। गौरतलब है कि त्यौहारों के समय भारी भीड़ से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है जिसको देखते हुए रेल मंत्री द्वारा कई अहम फैसले लिए गए है।

Ashwini Vaishnaw ने क्या कहा?

मीडिया से बात करते हुए रेल मंत्री अश्विन वैष्णव ने कहा कि “एक विशेष अभियान के तहत 2500 जनरल (ट्रेन) कोचों का निर्माण किया जा रहा है। 10000 से अधिक जनरल कोचों की मंजूरी दी गई है। इस गर्मी के मौसम में, रेलवे ने भारी मांग को पूरा करने के लिए 10000 से अधिक विशेष ट्रेनें चलाई हैं। हम सेवाओं, सुरक्षा और स्वच्छता पर केंद्रित तरीके से काम कर रहे हैं। 50 और अमृत भारत ट्रेनों का निर्माण शुरू हो गया है”।

150 और अमृत भारत ट्रेनों के निर्माण की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। पिछले साल 5300 किमी नए ट्रैक जोड़े गए। इस साल भी 800 किमी से ज्यादा ट्रैक जोड़े गए हैं। ‘कवच’ का रोल आउट भी तेजी से किया जा रहा है।

टीम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रही हैं

उन्होंने आगे कहा कि “विपक्षी दल रेलवे के 12 लाख कर्मचारियों को हतोत्साहित करने की कोशिश कर रहे हैं। वे पुराने वीडियो का उपयोग कर रहे हैं। हां, रेलवे नेटवर्क बहुत बड़ा है, और टीमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रही हैं। रेलवे देश की जीवन रेखा है, और हम इसे बनाए रखेंगे।” यह जीवनरेखा है और विपक्ष के इस आख्यान को विफल करें”। पीएम मोदी ने पिछले साल दो अमृत भारत ट्रेनों की शुरुआत की थी, 50 और अमृत भारत ट्रेनों का निर्माण शुरू हो चुका है।

वित्त वर्ष 2025-26 के लिए क्या है रेलवे की योजना

वित्त वर्ष 2025-26 में, रेलवे की योजना अमृत भारत जनरल कोच सहित 2710 सामान्य कोच, अमृत भारत स्लीपर कोच सहित 1910 नॉन एसी स्लीपर, अमृत भारत एसएलआर कोच सहित 514 एसएलआर कोच, 200 उच्च क्षमता वाले पार्सल वैन और 110 पेंट्री कार बनाने की है। रेल सेवा की मांग गतिशील है और मौसमी बदलावों, यात्री यातायात में वृद्धि आदि के आधार पर इसमें उतार-चढ़ाव होता है। कोचों की आवश्यकता इन कारकों पर आधारित होती है और वार्षिक कोच उत्पादन कार्यक्रम में शामिल हो जाती है। कोचों का उत्पादन आम तौर पर आवश्यकता के अनुरूप होता है।

Latest stories