रविवार, जुलाई 14, 2024
होमविडियोक्या मानसिक स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है Manifestation? जानिए इमेजिनेशन...

क्या मानसिक स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है Manifestation? जानिए इमेजिनेशन को लेकर क्या है डॉक्टर का मानना

Date:

Related stories

Manifestation: मेनिफेस्टेशन हमेशा अच्छा नहीं होता है लेकिन यह सच है कि पॉजिटिव मेनिफेस्टेशन हमारे लिए काफी मददगार और एक गोल साबित कर सकता है। दरअसल अगर हम किसी चीज को लेकर सोचते हैं और उसकी कल्पना करते हैं फिर उसे करने के लिए काफी जद्दोजहद करते हैं और फिर वह हो जाता है। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि यह सिर्फ आपका ऑब्जरवेशन था या फिर कोई साइंटिफिक वजह है जिसकी वजह से आपका मेनिफेस्टेशन पूरा हुआ। इसे लेकर डॉक्टर प्रियंका शेहरावत एक वीडियो शेयर करती हुए नजर आई जिसे देखने के बाद आपका मेनिफेस्टेशन को लेकर बहुत कन्फ्यूजन क्लियर हो जाएंगे।

मेनिफेस्टेशन के पीछे साइंटिफिक वजह

वीडियो में डॉक्टर कहती हैं कि क्या आपके दिमाग के पास ऐसे मेनिफेस्टेशन के लिए क्षमता है कि किसी चीज को कल्पना करें और उसके बारे में मन ही मन सोचें। वैसे यह काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि कल्पना और विजुअलाईजेशन मेनिफेस्टेशन के महत्वपूर्ण कारकों में से एक है क्योंकि इसके लिए आपको गहन चिंतन की जरूरत है। कल्पना करने की जरूरत है। आपको अपनी इच्छा के बारे में सोचना पड़ेगा और आपको यह भी सोचना पड़ेगा कि मुझे इस तरह के आउटकम चाहिए। अगर आप इस बारे में सोचते हैं और इसकी हर एक चीज की कल्पना कर लेते हैं सिर्फ अपने दिमाग में। न्यूरोसाइंस रिसर्च ने बताया है कि यह कल्पना कुछ तंत्रिका संचरणों को रिलीज कर कुछ तंत्रिका मार्गों की क्रिया को जन्म देगी जो हमें विश्वास दिलाती है कि यह एक मिलने वाली परिणाम है।

पॉजिटिव रहना है जरूरी

डॉक्टर प्रियंका के मुताबिक ऐसे में संभव है कि कल्पनाओं को प्राप्त करने योग्य परिणाम हैं। वहीं उन्होंने बताया कि इसे साबित करने के लिए और अधिक शोध की आवश्यकता है लेकिन पॉजिटिव रहें पॉजिटिव सोचें। अपने लक्ष्यों की कुछ मानसिक कल्पनाएं अपने दिमाग में रखें कि मैं इसे पूरा करूंगा। इसे पूरा करने का प्रयास करें। पॉजिटिव रहें। मेनिफेस्टेशन के बारे में सोच और अपने गोल को ध्यान में रखें और उसे पूरा करने की कोशिश करें लेकिन पॉजिटिव रहे।

कब मेनिफेस्टेशन हो सकता है हावी

अगर मेनिफेस्टेशन के बारे में बात करें तो कहा जाता है कि मेनिफेस्टेशन मानव शरीर के लिए बुरी है क्योंकि इसे हम अपने आप को किसी और दुनिया में ले जाते हैं और हम कल्पनाशील हो जाते हैं। जहां तक कि हम खुद को बदलने की भी कोशिश करते हैं लेकिन डॉक्टर की माने तो अगर हम पॉजिटिव मेनिफेस्टेशन रखते हैं तो यह हमारे लिए काफी फायदेमंद है। किसी भी चीज को हद से भी ज्यादा सोचने की वजह से एंजायटी, डिप्रैशन आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है लेकिन ऐसे में डॉक्टर हमेशा पॉजिटिव सोचने की सलाह देते हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Anjali Wala
Anjali Walahttp://www.dnpindiahindi.in
अंजलि वाला पिछले कुछ सालों से पत्रकारिता में हैं। साल 2019 में उन्होंने मीडिया जगत में कदम रखा। फिलहाल, अंजलि DNP India वेब साइट में बतौर Sub Editor काम कर रही हैं। उन्होंने बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी से हिंदी पत्रकारिता में मास्टर्स किया है।

Latest stories