रविवार, जून 23, 2024
होमख़ास खबरेंCyclone Remal का कहर! कोलकाता एयरपोर्ट पर प्रभावित हुई उड़ान, आंधी-बारिश के...

Cyclone Remal का कहर! कोलकाता एयरपोर्ट पर प्रभावित हुई उड़ान, आंधी-बारिश के कारण अस्त-व्यस्त हुआ जन जीवन; देखें रिपोर्ट

Date:

Related stories

Darjeeling रेल हादसे में 5 यात्रियों की मौत व दर्जनों घायल, राहत-बचाव के बीच रेलवे ने जारी किए हेल्प लाइन नंबर; जानें डिटेल

West Bengal News: पश्चिम बंगाल के दार्जलिंग में भीषण रेल हादसे के बाद सूबे की प्रशासन के साथ भारतीय रेलवे भी एक्शन मोड में नजर आ रहा है। ताजा जानकारी के अनुसार भारतीय रेलवे ने कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन की मालगाड़ी से टक्कर के बाद सियालदह पूर्वी रेलवे ने रंगपानी स्टेशन पर एक कंट्रोल डेस्क स्थापित किया है। रे

Darjeeling में मालगाड़ी व Kanchenjunga Express के बीच भीषण टक्कर, CM ममता बनर्जी ने दिए रेस्क्यू के निर्देश

West Bengal News: पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल आज सुबह जलपाईगुड़ी के निकट एक मालगाड़ी और कंचनजंगा एक्सप्रेस के बीच भीषण टक्कर हो गई जिसके कारण सवारी गाड़ी की कई गाड़ियां पटरी से उतर गईं। समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से इस हादसे से जुड़ा एक विजुअल जारी किया गया है जिसमें रेल हादसे के विभत्स रूप को देखा जा सकता है।

West Bengal News: OBC सर्टिफिकेट पर कलकत्ता HC के फैसले से गर्माई सियासत, BJP का TMC पर करारा प्रहार; जानें पूरी रिपोर्ट

West Bengal News: पश्चिम बंगाल की कलकत्ता हाईकोर्ट ने ओबीसी सर्टिफिकेट को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है जिसके बाद राज्य का सियासी पारा चढ़ता नजर आ रहा है।

Cyclone Remal: चक्रवाती तूफान रेमल तेज रफ्तार हवाओं और भारी बारिश के साथ बीते रात पश्चिम बंगाल के तट से टकरा गया। चक्रवात रेमल के टकराने के साथ ही पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों में 110 से 120 किमी प्रति घंटे की तीव्रता के साथ हवाएं चलीं और साथ ही भारी बारिश भी दर्ज की गई। इसमे प्रमुख रूप से उत्तर और दक्षिण 24 परगना, कोलकाता, पूर्वी मिदनापुर, हावड़ा और हुगली जैसे महानगर रेमल की चपेट में आए।

रेमल चक्रवात के कारण ही कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस हवाई अड्डे पर कई उड़ान प्रभावित हुए और यात्रियों को दिक्कत का सामना करना पड़ा। इसके अलावा कोलकाता समेत आस-पास के इलाको में तेज रफ्तार हवा के कारण पेड़-पौधे, बिजली के खंभे उखड़े मिले जिससे आम जन जीवन अस्त-व्यस्त नजर आया। ऐसे में आइए हम आपको रेमल चक्रवात के बारे में ताजा अपडेट देते हैं।

प्रभावित हुए उड़ान

रेमल चक्रवात के पश्चिम बंगाल के तट से टकराने के बाद कोलकाता समेत आस-पास के विभिन्न हिस्सों में तेज आंधी व भारी बारिश दर्ज की गई। चक्रवात के कारण ही कोलकाता एयरपोर्ट पर कई उड़ान प्रभावित हुए और उनके संचालन में देर हुई।

समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक विस्तारा UK 0772 फ्लाइट, AI 0709 फ्लाइट, IX 1886 फ्लाइट, UK 0706 फ्लाइट, इंडिगो 6E 5253 फ्लाइट का संचालन निर्धारित किए गए समय से बेहद देरी से हो सका।

अस्त-व्यस्त हुआ जन जीवन

चक्रवात रेमल (Cyclone Remal) के कारण पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों में तेजा हवाओं के साथ भारी बारिश दर्ज की गई है। साइक्लोन के कारण ही रास्तों पर पेड़-पौधे उखड़े पड़े हैं जिससे आज जन जीवन अस्त-व्यस्त नजर आया।

राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीम ने उत्तर 24 परगना जिले के अलग-अलग प्रभावित हिस्सों में दाकर रास्तों में गिरे पेड़-पौधों को हटाया। चक्रवात तूफान के कारण ही सुंदरबन के इलाके भी प्रभावित नजर आए और जगह-जगह पेड़-पौधे उखड़े नजर आए।

क्या है IMD की रिपोर्ट?

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) की ओर से रेमल चक्रवात के प्रभाव को लेकर एक रिपोर्ट जारी की गई है।

आईएमडी की ओर से स्पष्ट किया गया है कि तटीय बांग्लादेश और निकटवर्ती तटीय पश्चिम बंगाल पर गंभीर चक्रवाती तूफान रेमल, कैनिंग से लगभग 70 किमी दूर उत्तर पूर्व और मोंगला से 30 किमी पश्चिम दक्षिण पश्चिम में कमजोर होकर चक्रवाती तूफान में बदल गया है। इस सिस्टम के धीरे-धीरे और कमजोर होने की संभावना है। दावा किया जा रहा है कि जल्द ही लोगों को रेमल चक्रवात से राहत मिल सकेगा।

Gaurav Dixit
Gaurav Dixithttp://www.dnpindiahindi.in
गौरव दीक्षित पत्रकारिता जगत के उभरते हुए चेहरा हैं। उन्होनें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से अपनी पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की है। गौरव राजनीति, ऑटो और टेक संबंघी विषयों पर लिखने में रुची रखते हैं। गौरव पिछले दो वर्षों के दौरान कई प्रतिष्ठीत संस्थानों में कार्य कर चुके हैं और वर्तमान में DNP के साथ कार्यरत हैं।

Latest stories