गुरूवार, जुलाई 25, 2024
होमदेश & राज्यउत्तर प्रदेशUP News: योगी आदित्यनाथ ने 5 हजार करोड़ खनन माफिया पर कसी...

UP News: योगी आदित्यनाथ ने 5 हजार करोड़ खनन माफिया पर कसी नकेल, मगर क्यों 4000 लोगों के भविष्य पर छाया संकट; जानें डिटेल

Date:

Related stories

Kanwar Yatra 2024: नेमप्लेट विवाद के बीच RLD चीफ Jayant Chaudhary की प्रतिक्रिया, बोले- ‘क्या कुर्ते पर भी लिखे नाम’

Kanwar Yatra 2024: उत्तर प्रदेश में 'योगी सरकार' की ओर से एक निर्देश जारी कर स्पष्ट किया गया कि कांवड़ रूट वाली सभी दुकानों पर नेमप्लेट लगे होने चाहिए। दावा किया गया कि ये फैसला कांवड़ियों (Kanwar Yatra 2024) की आस्था को ध्यान में रखते हुए लिया गया है।

Sonu Sood: कांवड़ यात्रा ‘नेमप्लेट’ वाले फैसले पर तंज कस फंसे सोनू सूद, ट्रोलिंग के बाद जारी की सफाई; जानें क्या कहा?

Sonu Sood: सावन का पवित्र महीना 22 जुलाई से प्रारंभ होगा, हालाकि इसको लेकर चर्चाओं का दौर बीते कुछ दिन पहले से ही शुरू हो गया है। आधुनिक युग के सबसे व्यस्त प्लेटफॉर्म सोशल मीडिया पर सावन में निकलने वाले कांवड़ यात्रा को लेकर भी खूब चर्चाएं हैं।

UP News: NCR के तर्ज पर SCR का गठन, जानें कैसे योगी सरकार बदलेगी Lucknow, Raebareli समेत अन्य जिलों की तस्वीर?

UP News: देश की राजधानी दिल्ली के निकटवर्ती क्षेत्रों को नेशनल कैपिटल रीजन (NCR) कहा जाता है। इसमें नोएडा, गुड़गांव व गाजियाबाद के विभिन्न हिस्सें आते हैं। NCR क्षेत्रों की चमक-धमक अन्य इलाकों से हट कर होती है और यहां की चका-चौंध लोगों को तेजी से अपनी ओर आकर्षित करती है।

UP News: उत्तर प्रदेश में जब से योगी आदित्यानाथ ने मुख्यमंत्री पद संभाला है तब से ही माफियों के अंदर खौफ पैदा हो गया है। खौफ का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि माफिया देश छोड़कर विदेश में रहने के लिए मजबूर हो गए है। सहरानपुर जिले के खनन माफिया हाजी इकबाल की संपत्ति पर ईडी ने शिकंजा कसते हुए उसकी 4440 करोड़ रूपये की संपत्ति जब्त कर ली है। आपको बता दें कि हाजी इकबाल लंबे समय से फरार चल रहा है वही उसके ऊपर 1 लाख रूपये का इनाम भी है।

कौन है हाजी इकबाल

कभी परचून की दुकान चलाने वाला और बोतल में शहद भरकर बैचने वाला हाजी इकबाल ने देखते-देखते 5 हजार करोड़ रूपये से भी ज्यादा की संपत्ति बना ली। गौरतलब है कि इतने बड़े खनन माफिया के ऊपर बड़े राजनीति दल का हाथ रहा होगा। जानकारी के मुताबिक हाजी इकबाल उत्तर प्रदेश की पूर्व मु्ख्यमंत्री मायावती का बहुत ही करीबी माना जाता था। सबसे दिलचस्प बात यह है कि हाजी इकबाल बीएसपी से विधायक भी रह चुका है।

उसपर अवैध खनन, जमीन को गैरकानूनी तरीकों से अपने नाम करना समेत कई मामले दर्ज है। पिछली सरकारों ने हाजी इकबाल पर कार्रवाई करने से मना कर दिया था, लेकिन योगी आदित्यानाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही यूपी में माफिओं के बुरे दिन शुरू हो गए।

4000 लोगों के भविष्य पर छाया संकट

मालूम हो बीते रोज ईडी ने हाजी इकबाल की 4440 करोड़ रूपये की संपत्ति जब्त कर ली। वहीं हाजी इकबाल की गलोकल यूनिवर्सिटी को सीज कर दिया गया है। हालांकि अब वहां पढ़ने वाले करीब 4000 बच्चों के भविष्य पर संकट छा गया है। हालांकि इसे लेकर अभी योगी सरकार की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

क्या दुबई भाग गया हाजी इकबाल?

हाजी इकबाल लंबे समय से फरार चल रहा है। बकायादा उसपर 1 लाख रूपये का इनाम भी रखा गया है। जानकारी के अनुसार इकबाल दुबई भाग गया है। इसके अलावा हाजी इकबाल के चार बेटे वाजिद, जावेद, अलीशान, अफजाल और भाई महमूद अली सलाखों के पीछे है। कुछ समय पहले दुबई में एक बिजनेसमेन के साथ हाजी इकबाल की फोटो देखी गई थी जिससे कयास लगाए जा रहे है कि इकबाल दुबई में छिपा हो सकता है।

Latest stories