- विज्ञापन -

Latest Posts

बिना कोचिंग के फर्स्ट अटेम्प्ट में UPSC क्लियर करने वाली IPS प्रीती बनना चाहती थी पत्रकार, यहां पढ़ें Success Story

Success Story: हमारे देश में हजारों की संख्या में लोग बहुत कुछ करते हैं और उनकी सब जगह वाहवाही होती है। वहीं एक कहानी है प्रीती चंद्रा की जो आज कई लड़कियों के लिए उदाहरण है। बता दें, किसी भी चीज को पाने की चाहत होती है और जज्बा होता है तो किसी भी चीज को पाना नामुमकिन नहीं है। व्यक्ति अपने संघर्ष और मेहनत से उस है लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है जो वो पाना चाहता है।

आपको बता दें, आज इस आर्टिकल में हम प्रीती चंद्रा के विषय में बात करने वाले हैं जो आईपीएस अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं। आज के समय में बडे़-बड़े अपराधी भी आईपीएस प्रीती के नाम से डरते हैं। आईपीएस प्रीती कई बड़े अपराधियों को पकड़ी हैं और उसे सलाखों के पीछे तक पहुंचाई हैं। इसके अलावा कई बड़े गिरोहों को भी पकड़ उसे सजा दिलवाई हैं। तो आइए जानते हैं प्रीती चंद्रा के इस सक्सेस का क्या है रहस्य।

आईपीएस प्रीती बनना चाहती थी पत्रकार

आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे आईपीएस प्रीती चंद्रा के विषय में, जो पत्रकार बनकर जनता की आवाज को सरकार तक पहुंचाना चाहती थी। मगर कुदरत का करिश्मा तो देखिए आज वो आईपीएस अधिकारी बन जनता की सेवा में हाजिर हैं।

यूपीएससी में की थी 255वीं रैंक हासिल

आईपीएस प्रीती चंद्रा राजस्थान की हैं और उनका जन्म राजस्थान में ही सीकर के कुंदन गांव में साल 1979 में हुआ था। इन्होंने अपनी दशवीं तक की पढ़ाई राजस्थान के सरकारी स्कूल से की हैं। वहीं जयपुर के महारानी कॉलेज से प्रीती मास्टर्स डिग्री हासिल की हैं। इतना ही नहीं प्रीती बीएड, एमए और एमफिल भी की हैं।

Also Read: Career Tips: अब सिविल जज बनकर अपने सभी सपनों को करें साकार, जानें कैसे बनाएं बेहतरीन करियर

इसके बाद इन्होंने जयपुर में पत्रकारिता में दाखिला लिया। पढ़ाई के दौरान ही बिना किसी कोचिंग की मदद से प्रीती यूपीएससी की तैयारी शुरू की। मगर कहते हैं न कि किसी चीज को शिद्दत से चाहो तो पूरी कायनात तुम्हे उससे मिलाने में लग जाती है। बस मेहनत और लगन से प्रीती को पहले अटेम्प्ट में ही सफलता मिल गई और वो 2008 में यूपीएससी की परीक्षा में 255वीं रैंक हासिल की। आज वो आईपीएस अधिकारी के रूप से कार्यरत हैं।

मां ने बेटी को किया प्रोत्साहित

हर मां की ख्वाहिश होती है कि उसका बच्चा पूरी दुनिया में अपना नाम कमाएं। इसी तरह प्रीती की मां ने भी प्रीती का साथ हर कदम पर निभाया। उन्होंने खुद तो शिक्षा प्राप्त नहीं किया था मगर वो चाहती थी कि प्रीती खूब पढ़े लिखे। वो हमेशा प्रीती को यूपीएससी की तैयारी के लिए प्रोत्साहित करती रहती थी।

आपको बता दें, प्रीती के पति विकास पाठक भी डीआईजी के पद पर कार्यरत हैं। दोनों की मुलाकात मसूरी के अकादमी में हुई थी और दोनों में लव मैरिज की है।

ये भी पढें: BJP: चुनावी वर्ष की आहट में CM Shivraj की बड़ी घोषणा, जानें किसके चमकेंगे सितारे !

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल