बुधवार, जुलाई 24, 2024
होमएजुकेशन & करिअरJNU: क्या UGC-NET के बजाय इन-हाउस प्रवेश परीक्षा आयोजित करेगा जेएनयू? जानें...

JNU: क्या UGC-NET के बजाय इन-हाउस प्रवेश परीक्षा आयोजित करेगा जेएनयू? जानें क्यों बन रहीं सुर्खियां?

Date:

Related stories

Rajasthan News: एजुकेशन क्षेत्र में क्रांति के लिए CM Bhajanlal का बड़ा कदम, उच्च शिक्षा के लिए रिकॉर्ड अनुदान स्वीकृत

Rajasthan News: राजस्थान में सीएम भजनलाल शर्मा के नेतृत्व वाली सरकार लगातार एजुकेशन सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत नजर आती है। इसी क्रम में भजनलाल सरकार ने एक बार फिर शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति लाने के लिए बड़ा कदम उठाया है।

MP News: राजकीय कॉलेजों में छात्रों के लिए एक समान ड्रेस कोड, जानें क्या है CM Mohan Yadav सरकार की खास मुहिम?

MP News: मध्य प्रदेश में सीएम मोहन यादव के नेतृत्व में चल रही सरकार, लगातार राज्य की शिक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने में लगी है। इस क्रम में राज्य सरकार की ओर से पहले MP में राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की गई और अब एक आदर्श ड्रेस कोड लागू करने की योजना है।

MP News: CM Rise Yojana से नया कीर्तिमान हासिल कर रही Mohan Yadav की सरकार, जानें कैसे छात्रों को मिल रहा फायदा?

MP News: मध्य प्रदेश में सीएम मोहन यादव की सरकार शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक बदलाव कर नया मुकाम हासिल कर रही है। इसी क्रम में राज्य सरकार के सीएम राइज योजना (CM Rise Yojana) को लेकर खूब खबरें बन रही हैं।

JNU: राजधानी दिल्ली में स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। इसकी खास वजह है UGC-NET परीक्षा को लेकर जारी तमाम कयासबाजी। जानकारी के मुताबिक JNU प्रशासन अब पीएचडी प्रवेश के लिए इन-हाउस प्रवेश परीक्षा पर विचार कर रहा है। इसके पीछे प्रमुख कारण है विश्वसनीयता संबंधी चिंताओं के कारण यूजीसी नेट परीक्षा को रद्द कर दिया जाना।

समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक जेएनयू शिक्षक संघ (JNUTA) ने इस संबंध नें एक अहम घोषणा भी कर दी है। ऐसे में अब देखना दिलचस्प होगा कि जेएनयू के इस कदम का क्या असर होता है।

JNU में इन-हाउस प्रवेश परीक्षा पर विचार

राजधानी दिल्ली में स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में पीएचडी (PhD) प्रवेश के लिए इन-हाउस प्रवेश परीक्षा पर विचार किया जा रहा है। इस संबंध में अहम जानकारी समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से सामने आई है। जानकारी के मुताबिक जेएनयू शिक्षक संघ (JNUTA) ने इस संबंध में अहम घोषणा भी कर दी है।

JNUTA की ओर से कहा गया है कि कुलपति शांतिश्री डी पंडित ने पीएचडी प्रवेश के लिए जेएनयू द्वारा अपनी स्वयं की प्रवेश परीक्षा आयोजित करने की पुरानी प्रणाली को पुनर्जीवित करने की संभावना को खोलने के लिए अहम निर्णय लिया है। इसके साथ ही शिक्षक संघ ने इस मामले में स्कूलों/केंद्रों के फैकल्टी से भी उनकी राय चाहता है।

NTA के रोल पर उठे सवाल

NEET, JEE-Mains, CUET और UGC-NET जैसे परीक्षाओं का आयोजन करने वाली नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की भूमिका पर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। दरअसल NTA ने बीते दिनों ही विश्वसनीयता संबंधी चिंताओं के कारण यूजीसी नेट परीक्षा को रद्द कर दिया था। इसके अलावा NTA की ओर से आयोजित की जाने वाली NEET परीक्षा को लेकर भी विवाद जारी है। ऐसे में तमाम शिक्षण संस्थान अब NTA की भूमिका पर सवाल करते हुए इन-हाउस प्रवेश परीक्षा करने पर विचार कर रहे हैं।

Gaurav Dixit
Gaurav Dixithttp://www.dnpindiahindi.in
गौरव दीक्षित पत्रकारिता जगत के उभरते हुए चेहरा हैं। उन्होनें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से अपनी पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की है। गौरव राजनीति, ऑटो और टेक संबंघी विषयों पर लिखने में रुची रखते हैं। गौरव पिछले दो वर्षों के दौरान कई प्रतिष्ठीत संस्थानों में कार्य कर चुके हैं और वर्तमान में DNP के साथ कार्यरत हैं।

Latest stories