- विज्ञापन -

Latest Posts

केरल से लेकर JNU कैम्पस तक BBC Documentry की स्क्रीनिंग पर बवाल, बीजेपी यूथ विंग की पुलिस से हुई झड़प

BBC Documentry:पीएम मीदी पर बनी बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री का विवाद अब ब्रिटेन से निकलकर भारत पहुंच गया है। INDIA:The Modi Question की लेफ्ट संगठनों द्वारा भारत के कुछ कॉलेजों में जबरन इस डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग की गई है। एक तरफ जहां विपक्ष चाहता है कि स्क्रीनिंग होनी चाहिए वहीं भाजपा किसी भी हाल में इसको देश में प्रसारित नहीं होने देना चाहती।आपको बता दें 24 जनवरी शाम को जेएनयू,हैदराबाद तथा केरल के कुछ कॉलेजों में सत्तारुढ़ माकपा यूथ विंग डीवाईएफआई ने सीरीज की स्क्रीनिंग की थी। जिसके विरोध में बीजेपी के युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने आयोजन स्थल तक मार्च कर जमकर बवाल काटा। इसके बाद युवा मोर्चा की राजधानी में पुलिस के साथ कुछ जगहों पर हिंसक झड़प हो गयी। बवाल इतना बढ़ गया कि पुलिस को कार्यकर्ताओ को रोकने के लिए पानी की बौछार करनी पड़ी।

जेएनयू में भी आपसी पथराव

जेएनयू में भी देर रात लेफ्ट के छात्र संगठनों ने हंगामा किए जाने की खबर है। हॉस्टल की बिजली काट दी गई ‘पीएम मोदी पर प्रतिबंधित बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग के दौरान पथराव किए जाने का दावा करने के बाद जेएनयू के छात्रों ने वसंत कुंज में एक पुलिस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया।’ लेफ्ट तथा एबीवीपी के छात्रों के बीच आमना-सामना होने के साथ काफी देर तक तकरार होती रही।

ये भी पढ़ेः BBC की PM Modi पर बनी Documentry INDIA: The Modi Question से भारत से ब्रिटेन तक मचा घमासान, विदेश मंत्रालय ने जारी किया वक्तव्य

गुजरात दंगों पर बनाई डॉक्यूमेंट्री

गौरतलब है कि बीबीसी ने जो 59 मिनट की डॉक्यूमेंट्री का पहला पार्ट 17 जनवरी को यूट्यूब पर डाला था, उसमें ज्यादातर गुजरात दंगों को ध्यान में रखकर दर्शाया गया। PM Narendra Modi (तत्कालीन मुख्यमंत्री गुजरात) की भूमिका पर सवाल उठाए गये हैं । इस पर भारत के विदेश मंत्रालय ने भी तुरंत अपना कड़ी आपत्ति दर्ज करा दी थी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि हमारे विचार में यह वृत्तचित्र एक पूर्वाग्रही दुष्प्रचार का भाग मात्र है। इसकी न कोई वस्तुनिष्ठता है और न ही सत्यनिष्ठा। यह एक प्रचार सामग्री है। सवसे बड़ी बात यह भारत में प्रदर्शित नहीं है और यह एक औपनिवेशिक मानसिकता से भरी यह वृत्तचित्र स्पष्ट करती है कि इसे बनाने वाली एजेंसी और उसके व्यक्तियों का एक प्रतिबिंब है, जो इसको कहानी बनाकर प्रसारित कर रहा है।

ये भी पढ़ेः PM Narendra Modi को ब्रिटिश सांसद ने कहा ‘विश्व का सबसे शक्तिशाली व्यक्ति’, डॉक्यूमेंट्री विवाद को शांत करना है ब्रिटेन की मंशा !

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।                                            

Latest Posts

देश

बिज़नेस

टेक

ऑटो

खेल