सोमवार, अप्रैल 22, 2024
होमख़ास खबरेंPM Modi को 'तेली का बेटा' बोलकर क्या फंस गया ममता बनर्जी...

PM Modi को ‘तेली का बेटा’ बोलकर क्या फंस गया ममता बनर्जी का नेता? मामले ने पकड़ा तूल

Date:

Related stories

PM Modi: कुछ दिनों पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने पीएम मोदी की जाति पर सवाल उठाए थे। जिसके बाद काफी विवाद हुआ था। उस दौरान राहुल गांधी ने कहा था कि, पीएम नरेंद्र मोदी OBC में पैदा नहीं हुए वे गुजरात की तेली जाति में जन्मे हैं। उनके इस विवादित बयान पर भाजपा ने खूब घेरा था। बेहरहाल ये मामल शांत ही हुआ था कि, अब इस मुद्दे पर बंगाल के TMC नेता ने पीएम मोदी को घेरा है।

बंगाल के TMC नेता ने पीएम मोदी की जाति पर उठाए सवाल

पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के नेता पिजुष पांडा ने विवादित बयान देते हुए पीएम मोदी को तेली का बेटा बताया। इसके साथ ही कहा कि, “एक तेली का बेटा राम मंदिर का उद्घाटन और पूजा कैसे कर सकत है।” पीएम मोदी पर विवादित टिप्पणी करते हुए उनकी पढ़ाई और चाय बेचने पर भी सवाल खड़े किए हैं।

सुवेंदु अधिकारी ने वीडियो शेयर की कार्रवाई की मांग

ममता बनर्जी के नेता का अब ये बयान सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी ने इसका वीडियो एक्स पर शेयर किया है। इस दौरान उन्होंने एक लंबा चौड़ा पोस्ट भी लिखा है। पोस्ट में लिखा, “मैं निचले स्तर के टीएमसी नेता – पिजुष पांडा के बारे में कोई आपत्ति नहीं करता, लेकिन जब गंदा बोलने वाला व्यक्ति क्षेत्रीय टीएमसी पार्टी के कोंताई संगठनात्मक जिले का अध्यक्ष है, तो उसके शब्दों को उसकी पार्टी का आधिकारिक रुख माना जाना चाहिए।

उन्होंने न केवल माननीय प्रधानमंत्री को अपमानित करने का प्रयास किया है बल्कि ‘तेली’ का बेटा कहकर पूरे ओबीसी समाज का अपमान और अनादर किया है। उन्होंने विशेष रूप से संकेत दिया है कि जूते पॉलिश करना ओबीसी समाज के सदस्यों के लिए एक उपयुक्त काम है। उनकी नेता ममता बनर्जी ने पिछड़े वर्गों की पहचान निर्धारित करने वाले मंडल आयोग द्वारा अनुमोदित स्थापित मानदंडों को पहले ही कमजोर कर दिया है, और पश्चिम बंगाल में वास्तविक ओबीसी समाज को वंचित करते हुए अनैतिक रूप से आरक्षण के लाभ को अपने पसंदीदा ‘वोट बैंक’ तक बढ़ा दिया है।

अब ऐसा लगता है कि उन्होंने अपने मातहतों को ओबीसी समाज को गाली देने का अधिकार दे दिया है। अन्यथा ऐसे निम्न स्तर के नेता माननीय प्रधान मंत्री की जाति और पवित्र राम मंदिर के उद्घाटन समारोह में उनकी उपस्थिति के बारे में सवाल उठाने की हिम्मत नहीं कर पाते। गंदे व्यक्ति ने यह भी कहा कि वह अपना जनेऊ भेज देगा। और इसके बजाय जूते पॉलिश करें, जैसे कि जूते पॉलिश करना एक टीईएलआई के बेटे के लिए उपयुक्त काम होता और मंदिर के उद्घाटन कार्यक्रमों में भाग लेना नहीं।

मैं श्री हंसराज गंगाराम अहीर जी से आग्रह करना चाहता हूं; राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष, ओबीसी समाज पर हो रहे हमले का संज्ञान लेने की कृपा करें। इस कठोर चुनाव संहिता उल्लंघन के लिए उक्त नेता को चुनाव प्रक्रिया में आगे भाग लेने से प्रतिबंधित कर देना चाहिए।”

बीजेपी की तरफ से अब इस मामले में प्रतिक्रिया आ रही है। इसके साथ ही चुनाव आयोग से कहा कि, वह इन पर कार्रवाई करें। आपको बता दें, ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब पीएम मोदी पर किसी विपक्षी नेता की तरफ से निजी हमला बोला गया है। चुनावों से पहले कई बार नेताओं ने अपनी मर्यादा तोड़ते हुए कई बार निजी हमले किए हैं। जिस को मुद्दा बनाकर भाजपा ने चुनावों में विपक्ष का काफी घेरा है। ऐसे में टीएमसी की मुसीबत बढ़ सकती है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

Aarohi
Aarohihttps://www.dnpindiahindi.in/
आरोही डीएनपी इंडिया में मनी, देश, राजनीति , सहित कई कैटेगिरी पर लिखती हैं। लेकिन कुछ समय से आरोही अपनी विशेष रूचि के चलते ओटो और टेक जैसे महत्वपूर्ण विषयों की जानकारी लोगों तक पहुंचा रही हैं, इन्होंने अपनी पत्रकारिका की पढ़ाई पीटीयू यूनिवर्सिटी से पूर्ण की है और लंबे समय से अलग-अलग विषयों की महत्वपूर्ण खबरें लोगों तक पहुंचा रही हैं।

Latest stories