बुधवार, जुलाई 17, 2024
होमख़ास खबरेंReserve Bank Of India ने जारी की वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट, बैंकों का...

Reserve Bank Of India ने जारी की वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट, बैंकों का GNPA अब तक के निचले स्तर 2.8 प्रतिशत पर पहुंचा, जानें डिटेल

Date:

Related stories

Reserve Bank Of India: भारतीय रिजर्व बैंक ने गुरुवार को जारी अपनी 29वीं वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट में कहा कि भारतीय अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों का सकल जीएनपीए अनुपात मार्च 2024 के अंत में कई वर्षों के निचले स्तर 2.8 प्रतिशत पर आ गया, जबकि शुद्ध एनपीए अनुपात 0.6 प्रतिशत पर आ गया। बता दें कि आरबीआई ने प्रेस विज्ञापित कर इसकी जानकारी प्रदान की है।

भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत और लचीली बनी हुई है

जारी रिपोर्ट के अनुसार वैश्विक अर्थव्यवस्था लंबे समय से चल रहे भू-राजनीतिक तनाव, बढ़े हुए सार्वजनिक ऋण और अवस्फीति के अंतिम चरण में धीमी प्रगति के कारण बढ़े हुए जोखिमों का सामना कर रही है। इन चुनौतियों के बावजूद, वैश्विक वित्तीय प्रणाली लचीली बनी हुई है, और वित्तीय स्थितियाँ स्थिर हैं।

भारतीय अर्थव्यवस्था और वित्तीय प्रणाली व्यापक आर्थिक और वित्तीय स्थिरता के आधार पर मजबूत और लचीली बनी हुई है। बेहतर बैलेंस शीट के साथ, बैंक और वित्तीय संस्थान निरंतर ऋण विस्तार के माध्यम से आर्थिक गतिविधियों का समर्थन कर रहे हैं।

रिटर्न दशक के उच्चतम स्तर पर

Reserve Bank Of India ने कहा कि बढ़ती लाभप्रदता और गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों में गिरावट से एससीबी को बढ़ावा मिला है। आरबीआई ने कहा कि एससीबी का संपत्ति पर रिटर्न (आरओए) और इक्विटी पर रिटर्न (आरओई) दशक के उच्चतम स्तर 1.3 फीसदी और 13.8 फीसदी के करीब है। इसमें कहा गया है कि मार्च 2024 के अंत में एससीबी का जोखिम-भारित संपत्ति अनुपात (सीआरएआर) और सामान्य इक्विटी टियर 1 (सीईटी1) अनुपात क्रमश 16.8 प्रतिशत और 13.9 प्रतिशत था।

एनबीएफसी स्वस्थ बनी हुई हैं

इसके अलावा गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां (एनबीएफसी) स्वस्थ बनी हुई हैं, मार्च 2024 के अंत में सीआरएआर 26.6 प्रतिशत, जीएनपीए अनुपात 4.0 प्रतिशत और संपत्ति पर रिटर्न (आरओए) 3.3 प्रतिशत पर है। क्रेडिट जोखिम के लिए मैक्रो तनाव परीक्षणों से पता चलता है कि एससीबी न्यूनतम पूंजी आवश्यकताओं का अनुपालन करने में सक्षम होंगे, मार्च 2025 में सिस्टम-स्तरीय सीआरएआर 16.1 प्रतिशत, 14.4 प्रतिशत और 13.0 प्रतिशत अनुमानित है।

Latest stories