बुधवार, मई 29, 2024
होमख़ास खबरेंभाजपा वसुंधरा के नेतृत्व में ही लड़ेगी Legislative Election 2023, कांग्रेस की...

भाजपा वसुंधरा के नेतृत्व में ही लड़ेगी Legislative Election 2023, कांग्रेस की आंतरिक कलह को बनाएगी हथियार

Date:

Related stories

Rajasthan Legislative Election 2023: राजस्थान विधानसभा चुनाव में प्रदेश भाजपा ने पुनः वसुंधरा के नेतृत्व में ही लड़ने का ही अंतिम निर्णय लिया है। पार्टी ने स्पष्ट किया कि पूर्व सीएम को रणनीति के अनुसार ही चुनावी अभियान में आगे बढ़ाया जाएगा ।

राजस्थान चुनावी वर्ष में प्रवेश कर चुका है। राज्य के दोंनों प्रमुख दलों ने अपनी-अपनी तैयारियों तथा रणनीतियों को अभी से धार देना आरंभ कर दिया है। जहां कांग्रेस ने राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा भी आयोजित कर चुकी है। जबकि कांग्रेस मध्य प्रदेश की भांति ही राजस्थान में आंतरिक कलह के चरम पर पहुंच गई है। इसी कलह को हथियार बनाकर अब भाजपा ने अपनी तैयारियों की व्यूह रचना करना आरंभ कर दिया है।  

ये भी पढ़ेंः Rajasthan Politics: गहलोत-पायलट गुटों में खींचतान के बीच बोले शशि थरूर, कांग्रेस नेता ने दिया ये बयान

कांग्रेस की अंतर्कलह का लाभ उठाएगी भाजपा

राजस्थान की राजनीति में विगत कई दशकों से एक प्रकार का अनवरत क्रम चल रहा है। एक बार राजस्थान की जनता कांग्रेस को अवसर दे रही है तो अगली बार भाजपा को अवसर दे रही है। इस बार चूंकि राज्य में कांग्रेस की सरकार के विरुद्ध सत्ता विरोधी वातावरण है और अंतर्कलह भी चरम पर है। तो भाजपा इसे क्रमवार भी और अवसर के रुप में भी मानकर चल रही है।

आपको बता दें कि भाजपा ने अपनी तैयारियों को वर्ष भर पूर्व ही जन आक्रोश यात्राओं के माध्यम से  धार देना आरंभ  कर दिया था और समूचे राजस्थान को मथ चुकी है। गहलोत और पायलट का निजी महत्वाकांक्षा का झगड़ा कांग्रेस के आंतरिक द्वंदयुद्ध की सबसे बड़ी कमजोर कढ़ी बन चुका है।

भाजपा ने रची कांग्रेस के भ्रष्टाचार को लेकर व्यूह रचना

भाजपा निरंतर कांग्रेस के विरुद्ध भ्रष्टाचार को लेकर आक्रामक है। उसने पेपर लीक को लेकर बड़ा अभियान छेड़ा हुआ है, शिक्षक, पटवारी सहित अब तक लगभग 16 भर्ती परीक्षाओं के पेपर लीक हो चुके हैं। इसके साथ साथ कांग्रेस के सचिन पायलट स्वंय इन घपलों के विषय पर भाजपा के सहायक बने हुए हैं और अपनी ही सरकार को कटघरे में खड़ा किए हुए हैं। भाजपा प्रभारी और महासचिव का बयान है कि राज्य पूर्णतः अराजकता की चपेट में है। किसान, दलित तथा महिलाएं सभी कांग्रेस की व्यवस्था से त्रस्त हैं।     

ये भी पढ़ेंः Alzheimer disease: Vitamin D की कमी से हो सकती है भूलने की बीमारी, इन लक्षणों से करें रोग की पहचान

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Hemant Vatsalya
Hemant Vatsalyahttp://www.dnpindiahindi.in
Hemant Vatsalya Sharma DNP INDIA HINDI में Senior Content Writer के रूप में December 2022 से सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने Guru Jambeshwar University of Science and Technology HIsar (Haryana) से M.A. Mass Communication की डिग्री प्राप्त की है। इसके साथ ही उन्होंने Delhi University के SGTB Khalasa College से Web Journalism का सर्टिफिकेट भी प्राप्त किया है। पिछले 13 वर्षों से मीडिया के क्षेत्र से जुड़े हैं।

Latest stories