Retail Inflation
Retail Inflation

Retail Inflation: 2024 के पहले महीने यानी जनवरी में आम लोगों को बड़ी राहत मिली। दरअसल महंगाई के मोर्चे पर एक अच्छी खबर सामने आई है। देश में खुदरा महंगाई (Retail Inflation) दर में कमी आई है।

जनवरी में खुदरा महंगाई दर 5.10 फीसदी पर आ गई। ये तीन महीने के अपने निचले स्तर पर है। इसका मतलब है कि जनवरी के महीने में खाने-पीने की वस्तुओं की कीमत में कमी आई है। इसी वजह से खुदरा महंगाई दर में कमी आई है। नीचे जानिए पूरी डिटेल।

Retail Inflation में आई कमी

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय यानी एनएसओ की ओर से सोमवार को बताया गया है कि खाद्य वस्तुओं की वृद्धि दर इस साल जनवरी में 8.3 फीसदी रही। वहीं, इससे पिछले महीने यानी दिसंबर 2023 में 9.53 फीसदी थी।आपको बता दें कि उपभोक्ता मूल्य सूचकांक यानी सीपीआई आधारित मुद्रास्फीति दिसंबर 2023 में 5.69 फीसदी थी। नवंबर 2023 में महंगाई दर 5.55 फीसदी, अक्टूबर 4.87 फीसदी और सितंबर 5.02 फीसदी थी।

खाद्य वस्तुओं की कीमत में गिरावट

आपको बता दें कि दिसंबर 2023 की तुलना में जनवरी 2024 में सब्जियों की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है। सब्जियों की कीमत 27.6 फीसदी से कम होकर 27 फीसदी पर आ गई है। वहीं, फ्यूल और बिजली की महंगाई दर में भी कमी देखी गई है। ये दिसंबर 2023 में -0.77 फीसदी थी, जो कि जनवरी 2024 में -0.60 फीसदी हो गई है।

एनएसओ की तरफ से दिसंबर में औद्योगिक उत्पादन 3.8 फीसदी की दर से बढ़ा है। जबकि एक साल पहले समान अवधि में औद्योगिक उत्पादन 5.1 फीसदी की दर से बढ़ा था।

RBI ने रेपो रेट में नहीं किया कोई बदलाव

उधर, भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई ने हाल ही में एमपीसी बैठक में लगातार छठी बार ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया। आरबीआई ने रेपो रेट को 6.5 फीसदी ही रखी है। बता दें कि महंगाई को लेकर आरबीआई की रेंज 2 से 6 फीसदी है। ऐसे में आरबीआई चाहेगा कि महंगाई दर 4 फीसदी पर रहे।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

अमित महाजन DNP India Hindi में कंटेंट राइटर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं.अमित ने सिंघानिया...