मंगलवार, मई 28, 2024
होमधर्मGanesh Ji Ki Aarti: गणेशजी की आरती! यहां पढ़ें

Ganesh Ji Ki Aarti: गणेशजी की आरती! यहां पढ़ें

Date:

Related stories

Budhwar Vrat Katha & Aarti Lyrics: बुध देव व गणेश भगवान की पूजा से पूर्ण होते हैं मंगल कार्य, पढ़ें व्रत कथा व आरती

Budhwar Vrat Katha & Aarti Lyrics: हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार बुधवार का दिन गणेश भगवान को समर्पित है। मान्यता है कि बुधवार के दिन गणपति भगवान की पूजा करने से भक्तों के सभी मंगल कार्य पूर्ण हो जाते हैं।

Shani Chalisa Lyrics: शनि देव की अराधना से मिलती है कष्टों से मुक्ति, यहां पढ़ें चालीसा

Shani Chalisa Lyrics: हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार शनिवार के दिन भगवान शनि देव (Shani Dev) की अराधना करने से भक्तों को सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिलती है।

Santoshi Mata Ji Ki Aarti Lyrics: संतोषी माता की पूजा से होता है भक्तों का कल्याण, यहां पढ़ें आरती

Santoshi Mata Ji Ki Aarti Lyrics: हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार मां संतोषी की उपसना के लिए शुक्रवार का दिन सबसे उत्तम माना जाता है। मान्यता है कि इस खास दिन पर संतोषी मां की पूजा करने से भक्तों को धन-धान्य के साथ सुख-संपदा की प्राप्ति होती है।

Ganesh Ji Ki Aarti: हिंदू आस्था रखने वाले लोगों के लिए गणेश भगवान की पूजा करना बेहद अहम माना जाता है। शास्त्रों में कहा गया है कि गणेश भगवान विघ्न-हर्ता हैं और वो सभी तरह के काम में हमारी सफलता के लिए आशीर्वाद देते हैं। ऐसे में आइए हम आपको यहां प्रथम पूजनीय देव श्री गणेश भगवान की आरती (Ganesh Ji Ki Aarti) बताते हैं।

Ganesh Ji Ki Aarti

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥
एक दंत दयावंत, चार भुजा धारी।
माथे सिंदूर सोहे, मूसे की सवारी॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥

पान चढ़े फल चढ़े, और चढ़े मेवा।
लड्डुअन का भोग लगे, संत करें सेवा॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥

अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया।
बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥

‘सूर’ श्याम शरण आए, सफल कीजे सेवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥

दीनन की लाज रखो, शंभु सुतकारी।
कामना को पूर्ण करो, जाऊं बलिहारी॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥

शास्त्रों में मान्यता है कि श्री गणेश भगवान की प्रार्थना करने से हमारे सभी कार्य सकुशल संपन्न होते हैं। ऐसे में आप यहां से गणेश भगवान की आरती कर अपनी पूजा संपन्न कर सकते हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Gaurav Dixit
Gaurav Dixithttp://www.dnpindiahindi.in
गौरव दीक्षित पत्रकारिता जगत के उभरते हुए चेहरा हैं। उन्होनें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से अपनी पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की है। गौरव राजनीति, ऑटो और टेक संबंघी विषयों पर लिखने में रुची रखते हैं। गौरव पिछले दो वर्षों के दौरान कई प्रतिष्ठीत संस्थानों में कार्य कर चुके हैं और वर्तमान में DNP के साथ कार्यरत हैं।

Latest stories