उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल पहुंची सुभारती विश्वविद्यालय, कुलपति ने किया अभिनंदन

Anandiben Patel: उत्तर प्रदेश की महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में विभिन्न विश्वविद्यालयों एवं शिक्षण संस्थानों के कुलपति व अन्य पदाधिकारियों के साथ संवाद किया। स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय के कुलपति मेजर जनरल डा.जी.के.थपलियाल ने संवाद कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश की महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का अभिनंदन किया। उन्होंने महामहिम राज्यपाल को सुभारती फाइन आर्ट कॉलेज के विद्यार्थियों द्वारा बनाई गई पेंटिंग भेंट की।

विकास दर को तेजी से बढ़ाने हेतु हो रहे कार्य

उत्तर प्रदेश की महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि विश्वविद्यालयों एवं अन्य शिक्षण संस्थानों की समाज का उत्थान करने हेतु प्रमुख जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी योजना को सफल बनाने, गर्भवती महिला, कुपोषित महिला एवं शिशु के कल्याण हेतु सभी शिक्षण संस्थानों को पहल करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार विकास के साथ समाज के हर वर्ग को बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराने हेतु प्रतिबद्धता से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि विकास दर को तेजी से बढ़ाने हेतु कार्य किये जा रहे है। उन्होंने उत्तर प्रदेश में सकल नामांकन अनुपात बढ़ाकर 2030 तक पचास प्रतिशत करने में सभी को सहयोग प्रदान करने की बात कही। उन्होंने सुभारती विश्वविद्यालय द्वारा राष्ट्रहित में किये जा रहे कार्यों की सराहना करते हुए अपनी शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि सभी शिक्षण संस्थानों को देशहित में कार्य करने चाहिए।

ये भी पढ़ें: Bihar Board 12th Result 2023 Date: इन विद्यार्थियों को मिलेगा एक-एक लाख रुपए, जानें कैसे?

उच्च गुणवत्ता युक्त शिक्षा संस्कारों के साथ प्रदान की जा रही

सुभारती विश्वविद्यालय के कुलपति मेजर जनरल डा.जी.के.थपलियाल ने संवाद के दौरान उत्तर प्रदेश की महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय शिक्षा, सेवा, संस्कार एवं राष्ट्रीयता के भाव से कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय लैंगिक समानता को बल देने के साथ महिलाओं के उत्थान हेतु वृहद स्तर पर कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय में मेडिकल एवं नॉन मेडिकल के सभी कोर्स संचालित हो रहे है। जिसके माध्यम से विद्यार्थियों को उच्च गुणवत्ता युक्त शिक्षा संस्कारों के साथ प्रदान की जा रही है। उन्होंने बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय द्वारा सरकार की राष्ट्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु विद्यार्थियों को जागरूक करने के साथ ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में शिविर के माध्यम से जनमानस को जागरूकता प्रदान की जा रही है। स्वच्छ भारत मिशन, डिजिटल इंडिया, शौचालय, पर्यावरण संरक्षण सहित अन्य सामाजिक कार्यों को प्रमुखता से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि समग्र एकीकृत चिकित्सा को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

ये लोग रहे मौजूद

उन्होंने विशेष बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय भारत के आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को आत्मसात करते हुए अपने विद्यार्थियां को शिक्षा के हर क्षेत्र में निपूर्ण बनाकर उन्हें उद्यमी बनने सहित रोजगार के सुअवसर प्रदान करने में मुख्य भूमिका निभा रहा है। उन्होंने बताया कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में चिकित्सीय शिविर सहित विधिक जागरूकता शिविर के माध्यम से समाज के उत्थान हेतु कार्य किये जा रहे है। ताकि समाज का हर वर्ग मुख्यधारा से जुड़ कर लाभान्वित हो सकें। इस अवसर पर चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर संगीता शुक्ला, जिलाधिकारी श्री दीपक मीणा, सुभारती विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी अनम शेरवानी सहित अन्य शिक्षण संस्थानों के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें

Related Articles