रविवार, मई 26, 2024
होमदेश & राज्यउत्तर प्रदेशAyodhya Ram Mandir: ग्रीष्म ऋतु के आगमन पर रामलला आज से धारण...

Ayodhya Ram Mandir: ग्रीष्म ऋतु के आगमन पर रामलला आज से धारण करेंगे सूती वस्त्र, राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने दी जानकारी; जानें डिटेल

Date:

Related stories

Uttarakhand News: खुशखबरी! धामी सरकार के पहल से अयोध्या में बनेगा उत्तराखंड भवन, जानें कैसे भक्तों को मिलेगा लाभ

Uttarakhand News: यूपी में सरयू नदी के तट पर बसी रामनगरी अयोध्या समस्त हिंदू जनमानस के लिए आस्था का प्रतीक है।

Ayodhya Ram Mandir: अयोध्या में बने भव्य राम मंदिर को देखने के लिए भक्त देश-विदेश से आ रहे है। आंकड़ों के मुताबिक प्रतिदिन रामलला के दर्शन के लिए करीब 1 से 1.5 लाख लोग अयोध्या पहुंच रहे है। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर जानकारी देते हुए लिखा कि ग्रीष्म ऋतु के आगमन तथा निरंतर बढ़ते तापमान के कारण भगवान श्री रामलला सरकार सूती वस्त्र घारण करेंगे। गौरतलब है कि गरमी का मौसम आ गया है जिसके कारण तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने यह जानकारी दी।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने क्या कहा

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर जानकारी देते हुए लिखा कि “ग्रीष्म ऋतु के आगमन तथा निरंतर बढ़ते तापमान के दृष्टिगत, आज से, भगवान श्री रामलला सरकार सूती वस्त्र धारण करेंगे। प्रभु द्वारा आज धारण किए गए वस्त्र हस्तनिर्मित सूती मलमल से बने हैं, जिन को प्राकृतिक नील से रंगा गया है तथा गोटा पुष्पों से सजाया गया है”।

रामनवमी पर भक्तों की भारी भीड़ का अनुमान

आपको बता दें कि इस बार रामनवमी का त्योहार 17 अप्रैल 2024 को मनाया जाएगा। गौरतलब है कि हिंदू धर्मशास्त्रों के अनुसार इस दिन मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्री राम का जन्म हुआ था। पूरे देश में इसे बड़े धूम धाम से मनाया जाता है। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अनुसार इस दिन करीब 15 लाख भक्तों के आने की उम्मीद है। वहीं इसे लेकर यूपी सरकार और प्रशासन ने भी तैयारियां शुरू कर दी है। गौरतलब है कि राम मंदिर बनने के बाद पहली राम नवमी का त्योहार मनाया जाएगा। इस दिन सरयू नदी में स्नान करने का विशेष महत्व है। वहीं उम्मीद लगाई जा रही है इस दिन भक्तों की भारी भीड़ उमर सकती है। जिसे देखते हुए प्रशासन ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

Latest stories