रविवार, जुलाई 14, 2024
होमख़ास खबरेंझारखंड के पूर्व सीएम Hemant Soren को हाईकोर्ट से बड़ी राहत, भूमि...

झारखंड के पूर्व सीएम Hemant Soren को हाईकोर्ट से बड़ी राहत, भूमि घोटाला मामले में मिली जमानत, जानें डिटेल

Date:

Related stories

Patna High Court में ट्रांसलेटर व प्रूफरीडर जैसे पदों पर नौकरी पाने का मौका, तनख्वाह 1 लाख से भी ज्यादा; जानें डिटेल

Patna High Court Recruitment 2024: पटना हाईकोर्ट में नौकरी पाने का शानदार मौका सामने आया है। दरअसल पटना हाईकोर्ट की ओर से ट्रांसलेटर और ट्रांसलेटर कम प्रूफरीडर के कुल 80 पदों पर भर्ती निकली है।

Orissa High Court Recruitment 2024: हाई कोर्ट में ASO के पद पर नौकरी पाने का मौका, जानें आवेदन से जुड़े डिटेल

Orissa High Court Recruitment 2024: सरकारी नौकरी के लिए इच्छुक उम्मीदवारों के लिए अच्छी खबर सामने आई है। ओडिशा हाई कोर्ट की ओर से असिस्टेंट सेक्शन ऑफिसर (ASO) के 147 रिक्त पदों पर भर्ती से जुड़ा नोटिफिकेशन जारी किया गया है।

Chandigarh News: पंजाब-हरियाणा HC में लॉन्च हुआ E-HCR वेबसाइट, जानें कैसे लाभकारी होगा ये डिजिटल प्लेटफॉर्म

Chandigarh News: तकनीक के इस बदलते दौर में डिजिटल क्रांति का जोर है। इसी क्रम में भारतीय न्यायिक प्रणाली भी डिजिटल परिवर्तनके युग में प्रवेश कर इस अभियान का हिस्सा बनना चाहती है।

Hemant Soren: झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को भूमि घोटाला मामले में बड़ी राहत मिली है। दरअसल ईडी ने भूमि घोटाला मामले में हेमंत सोरेन को गिरफ्तार किया था हालांकि आज हाईकोर्ट ने सोरेन को जमानत दे दी है। बता दें कि हेमंत सोरेन को ईडी यानि प्रवर्तन निदेशालय ने 31 जनवरी को मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में गिरफ्तार किया था। ईडी ने उन पर फर्जी लेनदेन और जाली दस्तावेजों के माध्यम से रिकॉर्ड में हेरफेर करने और रांची में करोड़ों रुपये की 8.86 एकड़ जमीन हासिल करने की योजना चलाने का आरोप लगाया है।

आप सांसद संजय सिंह ने क्या कहा?

न्यूज एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि लंबी कानूनी लड़ाई के बाद जमानत मिलने पर हेमंत सोरेन को बधाई देना चाहता हूं।

एक आदिवासी मुख्यमंत्री को गिरफ्तार करना लोकतंत्र पर काला धब्बा था। इस (एनडीए) सरकार की मानसिकता संविधान विरोधी, आरक्षण विरोधी, दलित विरोधी और आदिवासी विरोधी है।

हेमंत सोरेन ने दिया था मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा

प्रवर्तन निदेशालय द्वारा गिरफ्तार किये जाने से पहले हेमंत सोरेन को झारखंड के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। उनके इस्तीफे के बाद चंपई सोरेन ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

हाइकोर्ट ने फैसले को सुरक्षित रखा था

हाईकोर्ट ने पहले 13 जून को सोरेन की जमानत याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। अदालत के फैसले की घोषणा करते हुए, वरिष्ठ वकील अरुणाभ चौधरी ने कहा कि “सोरेन को जमानत दे दी गई है। अदालत ने माना है कि प्रथम दृष्टया वह अपराध के लिए दोषी नहीं हैं और याचिकाकर्ता द्वारा जमानत पर रहते हुए अपराध करने की कोई संभावना नहीं है”। वहीं अब उम्मीद जताई जा रही है कि हेमंत सोरेन जल्द जेल से रिहा हो सकते है। हालांकि अब देखना दिलचस्प होगा कि क्या चंपई सोरेन ही प्रदेश के मुख्यमंत्री रहते है या फिर कुछ बदलाव हो सकता है।

Latest stories